0

श्रावण मास की चतुर्थी पर क्या करें कि श्री गणेश का मिल जाए शुभाशीष

शुक्रवार,जुलाई 19, 2019
Shravan Ganesh Chaturthi
0
1
महर्षि व्यास जीवन के सच्चे भविष्यकार हैं। कारण यह है कि उन्होंने जीवन को उसके समग्र स्वरूप में जाना है। जीवन न तो केवल ...
1
2
महाभारत के अंत में जब अश्‍वत्थामा ब्रह्मास्त्र छोड़ देता है तो उसके ब्रह्मास्त्र को वापस लेने के लिए वेदव्यास अनुरोध ...
2
3
गुरु पूर्णिमा इस बार 16 जुलाई 2019 को आ रही है। इसी दिन चंद्र ग्रहण भी है। आइए जानते हैं आपकी राशि का कौन सा मंत्र गुरु ...
3
4
धार्मिक शास्त्रों के अनुसार प्रतिवर्ष आषाढ़ शुक्ल त्रयोदशी के दिन एक विशेष व्रत किया जाता है। जिसे विजया-पार्वती व्रत के ...
4
4
5
गुरु के माध्यम से ही परमात्मा की थोड़ी-थोड़ी झलक मिलनी शुरू होती है। परमात्मा के आने की खबर का नाम ही गुरु है। जब गुरु ...
5
6
16 जुलाई को आषाढ़ी पूर्णिमा के दिन गुरु पूर्णिमा तथा चंद्र ग्रहण है। अत: ग्रहण के दौरान मंत्रों का जप किया जा सकता है ...
6
7
धार्मिक ग्रंथों के अनुसार आषाढ़ शुक्ल पक्ष की एकादशी को ही देवशयनी (हरिशयनी) एकादशी कहा जाता है। इस दिन से भगवान श्री ...
7
8
जीवन की समस्त आशाओं को पूर्ण करने वाला आशा दशमी व्रत इस वर्ष 11 जुलाई 2019, गुरुवार को मनाया जा रहा है। आइए जानें कैसे ...
8
8
9
देवशयनी एकादशी के दिन प्रात: उठकर दैनिक कर्मों से निवृत्त होकर भगवान विष्णु का पूजन कर विष्णु सहस्रनाम तथा भगवान विष्णु ...
9
10
हर साल आषाढ़ शुक्ल नवमी को भड़ली नवमी पर्व मनाया जाता है। नवमी तिथि होने से इस दिन गुप्त नवरात्रि का समापन भी होता है। ...
10
11
आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को विवस्वत सप्तमी मनाई जाती है। मत-मतांतर के चलते इस बार सप्तमी तिथि 8 और 9 ...
11
12
आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को विवस्वत सप्तमी मनाई जा रही है। वर्ष 2019 में यह तिथि 9 जुलाई को आ रही है। इस ...
12
13
चतुर्थी की तिथि भगवान श्री गणेश की तिथि है। प्रति माह शुक्ल पक्ष में आने वाली चतुर्थी को विनायकी चतुर्थी व्रत कहते हैं।
13
14
इस वर्ष गुरु पूर्णिमा 16 जुलाई 2019 को आ रही है। जब गुरु पूर्णिमा पर आप अपने गुरुजी का आशीर्वाद लेने जाएं, तब उनका पूजन ...
14
15
आषाढ़ में भी गुप्त नवरात्रि का पर्व प्रमुख रूप से मनाया जाता है। गुप्त नवरात्रि का महत्व विशेष तौर पर गुप्त सिद्धियां ...
15
16
2 जुलाई 2019 को हलहारिणी अमावस्या है। इसे आषाढ़ी अमावस्या भी कहते हैं। इस अमावस्या को भगवान शिव विशेष वरदान देते हैं। ...
16
17
हिन्दू पंचांग के अनुसार आषाढ़ मास की अमावस्या का विशेष महत्व होता है क्योंकि इस अमावस्या के बाद वर्षा ऋतु आती है।
17
18
एक गांव में अति दीन ब्राह्मण निवास करता था। उसकी साध्वी स्त्री प्रदोष व्रत किया करती थी। उसे एक ही पुत्ररत्न था। एक ...
18
19
इस वर्ष हलहारिणी अमावस्या 3 जुलाई, मंगलवार को मनाई जा रही है। यह मंगलवार के दिन आने के कारण उसका महत्व और बढ़ गया है। ...
19