भारतीय-अमेरिकी सराय मालिक पर हमला


वाशिंगटन|
वाशिंगटन। बारह जनवरी को भारतीय अमेरिकी के केटल फाल्स इन में सेंघमारी के साथ-साथ एक भारतीय-अमेरिकी सराय मालिक पर हमला करने का ‍अपराधी ‍ठहरा दिया है। आरोपी ब्रेंडन के. किलगोर पर सराय में अवैध घुसपैठ करने, सराय मालिक और उसके परिवार को 9 जुलाई, 2016 को आतंकित करने का दोषी पाया गया।
 
अवैध घुसपैठ के बाद किलगोर ने मुदगिल को एक 'आतंकवादी' कहा और धमकी दी कि वह उसकी और उसके परिवार की हत्या भी कर सकता है। हमले के दौरान मुदगिल ने किसी तरह हमलावर से अपना बचाव किया और आपातकाल अधिकारियों को सूचित किया। हमले के समय पर मुदगिल के माता-पिता और छोटा बच्चा भी घर पर मौजूद था। जब किलगोर ने हमला करने के बाद अंत में छत पर चढ़ गया। 
 
बाद में, एक स्लाइडिंग ग्लास डोर के जरिए अंदर घुस आया और उसने मुदगिल के गले पर चाकू रख दिया था। तब मुदगिल ने उसे चेताया था कि उसके पास पिस्टल है और अगर वह नहीं माना तो वे इसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं। यह मुकदमा को दिनों तक चला और बहुत सारे प्रत्यक्षदर्शिंयों ने कहा कि उन्होंने हमला करते किलमोर को पकड़कर तब तक काबू में रखा जबतक कि पुलिस ने उसे अपनी हिरासत में नहीं ले लिया। 
 
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :