0

'गांधी 150' : देशव्यापी असरकारी वैचारिक श्रृंखला का आगाज

सोमवार,दिसंबर 11, 2017
0
1
महात्मा गांधी अहिंसावादी थे और अन्याय के विरोध में अपनी आवाज उठाते थे। उनमें दोनों गुण शुरू में नहीं थे। अन्याय के ...
1
2

‘फालो द महात्मा’ एक शीतल हवा

सोमवार,अक्टूबर 2, 2017
महात्मा गांधी जिन्हें लोगों ने प्राणों से बापू पुकारा आज पूरी दुनिया के बापू बन गए हैं। नीदरलैंड में उनके जन्मदिन पर एक ...
2
3
बापू मर नहीं सकते। भारत ही नहीं दुनिया के तमाम देशों के विचारों में बापू यानी महात्मा गांधी का संदेश गूंज रहा है। गांधी ...
3
4
महात्मा गांधी की मूलत: गुजराती में लिखी पुस्तक 'हिन्द स्वराज' हमारे समय के तमाम सवालों से जूझती है। महात्मा गांधी की यह ...
4
4
5
एक-दूसरे का बेहद सम्मान करने वाले महात्मा गांधी और गुरुदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर के आपसी संबंधों का एक दिलचस्प पहलू वे ...
5
6
जिसको पाकर मुक्त हुआ था, भारतमाता का उपवन। आओ आज सुनाएं तुमको, बापू का निर्मल जीवन।। अठ्ठारह सौ उनहत्तर में, अक्टूबर ...
6
7
भारतमाता, अंधियारे की, काली चादर में लिपटी थी। थी, पराधीनता की बेड़ी, उनके पैरों से, चिपटी थी। था हृदय दग्ध, धू-धू ...
7
8
जीवन के सूखे मरुथल में, झेले ये झंझावात कई। जितनी बाधा, कंटक आते, उनसे वे पाते, शक्ति नई। विश्वासी, धर्मनिष्ठ, कर्मठ, ...
8
8
9
बीसवीं सदी के महान उपन्यासकार जॉर्ज ऑरवेल ने अपने एक निबंध, 'गांधी : कुछ विचार' में कहा है- 'संतों को हमेशा ही तब तक ...
9
10
चलिए सुबह का पहला काम ये करें कि इस दिन के लिए संकल्प करें कि मैं दुनिया में किसी से नहीं डरूंगा। नहीं, मैं केवल भगवान ...
10
11
अंग्रेजों के खि‍लाफ आजादी की लड़ाई लड़ने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को कौन नहीं जानता। लेकिन भारतीय राष्ट्रीय ...
11
12
प्रिय कस्‍तूर, मैं जानता हूं कि तुम मेरे साथ रहने की इच्छुक हो। मुझे लगता है कि हम दोनों को अपने-अपने कार्य में लगे ...
12
13
लालबहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1904 को मुगलसराय के एक निर्धन परिवार में हुआ था। उनके पिता मुंशी शारदा प्रसाद ...
13
14
आज गांधी जयंती है। गांधीजी की प्रतिमा के सामने आंख मूंदकर कुछ क्षण खड़े रहने वाले क्या यह पश्चाताप कर रहे होंगे कि वे ...
14
15
आत्मकथाओं के बड़े ढेर से अलग है गांधीजी की आत्मकथा, जो बिलकुल अधूरी होते हुए भी सच पूरा बताती है। भारतीय भाषाओं में आज ...
15
16
महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर नामक स्थान पर हुआ था। इनके पिता का नाम करमचंद गांधी था। ...
16
17
प्रात:काल का समय, रोजमर्रा की जिंदगी, उलझी अंगुलियां-दिमाग, स्वत: चलते, मस्तिष्क पर थोड़ा जोर डाला, कुछ याद आया, ...
17
18

गांधी की खादी और मोदी की गादी

शुक्रवार,जनवरी 27, 2017
खादी ग्रामोद्योग आयोग की डायरी व कैलेंडर पर प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर ने यह तो स्पष्ट कर दिया है कि दक्षिणपंथी ...
18
19
शास्त्रीजी का समस्त जीवन देश की सेवा में ही बीता। देश के स्वतंत्रता संग्राम और नवभारत के निर्माण में शास्त्रीजी का ...
19