0

अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी

बुधवार,जनवरी 30, 2019
0
1
महात्मा गांधी की कुछ नजदीकी महिला मित्र रही हैं जिन पर बापू अपने से ज्यादा विश्वास करते थे... आइए जानें 5 ऐसी ही खास ...
1
2
उस वक्त शाम के 5.17 बज रहे थे, जब सफेद धोती पहने गांधीजी पर तीन बार गोलियां दागी गईं। और आश्चर्य यह था कि इस बात का ...
2
3
बचपन से हम स्कूल की किताबों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में पढ़ते आए हैं, अत: उनके बारे में सामान्य जानकारी ...
3
4
आखिर बापू होते 2019 में तो क्या करते? विज्ञान, तकनीक और प्रौद्योगिकी उनके रूचि के विषय होते, क्या बदलते वक्त के साथ वे ...
4
4
5
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को तीन बार मलेरिया हुआ था। वे कई दिन तक बिस्तर पर रहे। इसी दौरान वे एक जिद कर बैठे, बोले मैं ...
5
6
दुबली-पतली काया, हाथ में सिर्फ लाठी, बदन पर एक कपड़ा और चाल ऐसी कि 20 साल का युवा भी शर्मा जाए...आवाज में दम और हौसले ...
6
7
गांधी को लेकर सवाल यह है कि गांधी किस हद तक ऐसे संतत्व से एक विनम्र और चेतनाशील फकीर के रूप में संचालित थे, जो बिना संत ...
7
8
अहिंसा के मार्ग को आजादी पाने का रास्ता बनाकर चलने वाले महात्मा गांधी राष्ट्रपिता के साथ-साथ महात्मा के संबोधन से ...
8
8
9
कुल दस अध्यायों में बंटी इस पुस्तक के केंद्र में निश्चित तौर पर गांधीजी की सत्यता और अहिंसा संबंधी प्रयोगों की व्याख्या ...
9
10
महात्मा गांधी नैतिक पुनर्जागरण आंदोलन के उस स्वयंभू नेता के रूप में उभरे, जो सभ धर्मों के बीच आपस में मेलजोल और भाईचारा ...
10
11
प्रख्यात इतिहासकार रामचंद्र गुहा की प्रकाशित पुस्तक 'गांधी- भारत से पहले' में दावा किया गया है और कहा है कि उनके बड़े ...
11
12
देखो खुदा के निकट मैं तुमसे अच्छा मुसलमान हूं।" इस घटना के तुरंत बाद गांधीजी ने अपने साथ चल रहे लोगों को सख्त आदेश दिया ...
12
13
हिन्दी के प्रति महात्मा गांधी का प्रेम बड़ा गहरा था। वे ज्यादातर हिन्दी भाषा का प्रयोग करने के पक्षधर थे। जानिए हिन्दी ...
13
14
कविवर पंत ने लिखा था, "ईश्वर को मरने दो, मरने दो, मरने दो, वह फिर से जी उट्ठेगा"। उनके स्वर में स्वर मिलाकर हम भारतवासी ...
14
15
गांधीजी आज फिर अकेले पड़ गए हैं। अब तो न कोई जवाहरलाल, वल्लभभाई, मौलाना आजाद, सुशीला नैयर, प्यारेलाल, जयप्रकाश नारायण, ...
15
16
प्रेम की शक्ति हिंसा की शक्ति से कहीं ज्यादा अधिक बलवान है।
16
17
'मजबूरी का नाम महात्मा गांधी ये मैं भी मानता था बहुत लंबे अर्से तक। मैं भी इसे कहता था। अल्पता के बोध के साथ कह सकता ...
17
18
मैं उसे धार्मिक कहता हूं जो दूसरों का दर्द समझता है।
18
19
स्वच्छता को लेकर महात्मा गांधी बेहद संवेदनशील, सजग और समर्पित थे, यहाँ जानिए क्या थे स्वच्छता को लेकर गांधी जी के ...
19