जब नेताओं ने कहा, ये दोस्ती हम नहीं छोड़ेंगे

पुनः संशोधित मंगलवार, 31 जुलाई 2018 (11:04 IST)
क्या अंतरराष्ट्रीय स्तर के राजनेता दोस्त बन सकते हैं? जवाब मुश्किल है। आज इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे के मौके पर जानते हैं कि वे कौन से अंतरराष्ट्रीय नेता हैं जिनकी दोस्ती की चर्चा दुनिया भर में होती है।

कास्त्रो ने इंदिरा को गले लगाया
1983 में गुट निरपेक्ष देशों की शिखर भेंट के दौरान फिदेल कास्त्रो ने तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को गले लगा लिया था। इस पर इंदिरा गांधी अवाक रह गई थीं। कास्त्रो ने कहा कि दुनिया भाई-बहन के इस रिश्ते को याद रखेगी। इसके बाद सम्मेलन कक्ष तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। कास्त्रो की यह अंतिम भारत यात्रा थी।

आसमान में होती हंसी-ठिठोली
जर्मनी के पूर्व चांसलर हेल्मुट कोल और पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की गहरी यारी के बारे में सारी दुनिया जानती है। यह तस्वीर 1998 की है जब दोनों फ्रैंकफर्ट जा रहे थे और हंसी-मजाक चल रहा था। क्या आज जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल और अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप के बीच ऐसी दोस्ती की उम्मीद की जा सकती है? शायद नहीं।


दोस्ताना किस
इस तस्वीर को देखकर शायद आप कुछ और समझ लें, लेकिन यह सिर्फ दो देशों के बीच की दोस्ती है। 5 अक्टूबर, 1979 तो पूर्वी जर्मनी के नेता एरिष होनेकर (दाएं) और सोवियत नेता लियोनिद ब्रेझनेव ने एक दूसरे को किस करके दोस्ती जाहिर की। नेताओं के ऐसे चुंबन को समाजवादी चुंबन कहा जाता था। यह मौका पूर्वी जर्मनी के गठन की 30वीं सालगिरह का था।

जर्मनी और फ्रांस की दोस्ती
द्वितीय विश्व युद्ध खत्म होने के 13 साल बाद पहली बार तत्कालीन जर्मन चांसलर कोनराड आडेनावर (दाएं) और फ्रेंच राष्ट्रपति चार्ल्स द'गॉल मिले और सबको चौंका दिया। इसके बाद दोनों ने सदियों से दुश्मन रहे देशों के बीच दोस्ती की नींव रखने की कोशिश की। यह 1962 की तस्वीर है जब बॉन शहर में लोग यूरोप के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे थे।


जेहोफर के साथ यह कौन?
जर्मनी के मौजूदा गृहमंत्री हॉर्स्ट जेहोफर किसको गले लगा रहे हैं? यह तस्वीर 2016 की है जब जेहोफर बवेरिया राज्य के मुख्यमंत्री हुआ करते थे। उन्होंने हंगरी के प्रधानमंत्री विक्टर ओरबान को यूं गले लगा लिया था। चर्चा शुरू हुई कि क्या यह महज सिर्फ दोस्ती है।

दोस्ती के लिए बेसमेंट में सोए
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप और इस्राएल के प्रधानमंत्री बेन्जामिन नेतन्याहू की गहरी दोस्ती से कई देशों को रश्क हो सकता है। ट्रंप अपने दामाद व सलाहकार जैरेड कुशनर की सलाह पर भरोसा करते हैं जो मध्य पूर्वी एशिया की राजनीति के एक्सपर्ट हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स की मानें तो दोस्ती का आलम यह है कि एक बार कभी नेतन्याहू मिलने गए तो वह कुशनर के कमरे में सोए और खुद कुशनर बेसमेंट में जाकर सोए।

...ऐसे मिले जैसे कभी जुदा न थे
अब तक अमेरिका और उत्तरी कोरिया के रिश्तों में तनातनी की खबरें हम सुनते आ रहे थे, लेकिन 2018 में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई शासक किम जोंग उन की ऐतिहासिक मुलाकात ने सभी की बोलती बंद कर दी। दोनों राष्ट्राध्यक्ष जब मिले तो ऐसा लगा कि दोनों की यारी पुरानी है। शायद दोनों नेताओं का अप्रत्याशित होना ही वह कड़ी है जो दोनों को जोड़ती है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

मुंगेर के निसार हैं 'लावारिस शवों के मसीहा'

मुंगेर के निसार हैं 'लावारिस शवों के मसीहा'
जहां धर्म और मजहब के नाम पर हिंदू और मुसलमानों के बीच तनाव की खबरें सुर्खियों में आती ...

शवों के साथ एकांत का शौक रखने वाला यह तानाशाह

शवों के साथ एकांत का शौक रखने वाला यह तानाशाह
चार अगस्त, 1972, को बीबीसी के दिन के बुलेटिन में अचानक समाचार सुनाई दिया कि युगांडा के ...

तो क्या खुल गया स्टोनहेंज का राज?

तो क्या खुल गया स्टोनहेंज का राज?
शायद आपने फिल्मी गानों में इन रहस्यमयी पत्थरों को देखा हो। इंग्लैंड में प्राचीन पत्थरों ...

कैंसर ने इरफान खान को बदल डाला

कैंसर ने इरफान खान को बदल डाला
अपने एक्टिंग से बॉलीवुड और हॉलीवुड को हिलाने वाले इरफान खान ने कैंसर की खबर के बाद पहला ...

दिल्ली का जीबी रोड: जिस सड़क का अंत नहीं

दिल्ली का जीबी रोड: जिस सड़क का अंत नहीं
दिल्ली की एक सड़क है, जिसका नाम सुनते ही लोगों की भौंहें तन जाती हैं और वे दबी जुबान में ...

वियना दुनिया का सबसे रहने लायक शहर, दिल्ली 112वें, मुंबई ...

वियना दुनिया का सबसे रहने लायक शहर, दिल्ली 112वें, मुंबई 117वें पायदान पर
लंदन। दुनिया के रहने लायक शहरों की सूची में भारत समेत दक्षिणी एशियाई देशों का प्रदर्शन ...

ब्रिटिश संसद के बाहर आतंकी हमला, तेज रफ्तार कार ने ढाया कहर

ब्रिटिश संसद के बाहर आतंकी हमला, तेज रफ्तार कार ने ढाया कहर
लंदन। ब्रिटेन में संसद के बाहर एक आतंकी हमले में आज एक व्यक्ति ने तेज रफ्तार कार पैदल ...

स्वतंत्रता बरकरार रखने के लिए रुका नहीं है कुर्बानियों का ...

स्वतंत्रता बरकरार रखने के लिए रुका नहीं है कुर्बानियों का सिलसिला
अंबाला का विक्रमजीत सिंह 5 साल पहले सेना में भर्ती होने के बाद कश्मीर में शहादत पा गया। ...