सोना सस्ता हुआ, सात माह के निचले स्तर पर

​नई दिल्ली| पुनः संशोधित बुधवार, 18 जुलाई 2018 (15:44 IST)
नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर दोनों कीमती धातुओं की चमक फीकी पड़ने के बीच स्थानीय आभूषण निर्माताओं की मांग में आई भारी गिरावट के दबाव में बुधवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 400 रुपए लुढ़ककर सात माह के निचले स्तर 30,650 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया।
इस दौरान औद्योगिक उठाव कम होने से चांदी भी 620 रुपए का गोता लगाती हुई साढ़े तीन माह के निचले स्तर 39,200 रुपए प्रति किलोग्राम पर बोली गई।

विदेशी बाजारों में दोनों कीमती धातुओं पर डॉलर की मजबूती का दबाव रहा। लंदन का सोना हाजिर एक फीसदी से अधिक यानी 5.72 डॉलर लुढ़ककर 1,221.80 डॉलर प्रति औंस पर आ गया। अगस्त का अमेरिकी सोना वायदा भी 5.40 डॉलर की गिरावट में 1,221.90 डॉलर प्रति औंस बोला गया।
बाजार विश्लेषकों का कहना है कि दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के मजबूत होने से पीली धातु की मांग में सुस्ती आई है। इसके अलावा अमेरिकी फेडरल रिजर्व के प्रमुख जेरोम पॉवेल द्वारा मंगलवार को अमेरिका के ऊपरी सदन में दिए गए बयान ने भी इसकी मांग सुस्त कर दी।

पॉवेल के बयान ने गिराए सोने के दाम : पॉवेल ने ब्याज दर में बढ़ोतरी में तेजी लाने का समर्थन किया है। साथ ही चीन और भारत जैसे देशों से सोना आयात कम होने का दबाव भी दोनों कीमती धातुओं पर है। अमेरिका और चीन के बीच जारी तनातनी से येन कमजोर पड़ रहा है, जिसका असर सोने की मांग पर पड़ रहा है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में चांदी हाजिर भी 0.15 डॉलर गिरकर 15.39 डॉलर प्रति औंस पर आ गई।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :