आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग रोकना थी, लिए महंगे गिफ्ट...

कोलकाता| पुनः संशोधित रविवार, 24 मई 2015 (11:37 IST)
कोलकाता। के 6ठे संस्करण में भ्रष्टाचार और स्पॉट फिक्सिंग के मामले सामने आने के बाद उसके अगले ही संस्करण आईपीएल-7 में टीमों के इंटिग्रिटी अधिकारियों को महंगे दिए गए थे।
 
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की भ्रष्टाचाररोधी इकाई के प्रमुख रवि सवानी को भेजे गए एक पत्र में इस बात का खुलासा किया गया है।
 
आईपीएल-6 में भ्रष्टाचार और स्पॉट फिक्सिंग के मामले सामने आने के बाद आईपीएल में भाग लेने वाली सभी टीमों के लिए इंटिग्रिटी अधिकारी नियुक्त किए गए थे।
 
सवानी को भेजे गए पत्र में बताया गया है कि आईपीएल-7 के दौरान सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए नियुक्त इंटिग्रिटी अधिकारियों को टीम की ओर से ही महंगे गिफ्ट दिए गए थे।
 
हैदराबाद के इटिग्रिटी अधिकारी मेजर आईसी यादव को टीम की ओर से मैक एयर लैपटॉप तथा सीएसके के अधिकारी ब्रिगेडियर (रिटायर्ड) विजय सिंह को टाइटन की एक्जाइलिस घड़ी उपहार में दी गई थी।
 
सवानी ने कहा कि हम मेहमाननवाजी का सम्मान करते हैं लेकिन इतने महंगे उपहार इंटिग्रिटी अधिकारियों को नहीं लेने चाहिए थे। एसीयू के अधिकारियों को समन्वय और नियमों का पालन करने की जरूरत होती है तभी हम क्रिकेट में फैली गंदगी को साफ कर सकते हैं। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :