आईपीएल क्वालीफायर-2 : भारत के दो कप्तानों की जंग

पुनः संशोधित गुरुवार, 21 मई 2015 (16:24 IST)
आईपीएल अपने अंतिम चरण पर है, कुल तीन टीमें मैदान पर शेष बची हैं। एलिमिनेटर राउंड में राजस्थान रॉयल्स को पटखनी देने के बाद की नजरे इस बार खिताब पर पूरी तरह से हैं। लेकिन, इस राह में सबसे बड़ा रोड़ा हैं।
चेन्नई सुपरकिंग्स से बैंगलोर की टीम को टूर्नामेंट के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में 22 मई को भिड़ना है। इस मैच में जो भी टीम जीतेगी उसका मुकाबला पहले से ही फाइनल की राह तय कर चुकी मुंबई इंडियंस से होगा।  
 
दोनों टीमों के कप्तान के विराट कोहली(टेस्ट टीम कप्तान) और महेंद्र सिंह धोनी(वनडे टीम कप्तान) हैं। कोहली के पास कप्तानी का कम अनुभव है। लेकिन जबसे वे बैंगलोर टीम के कप्तान बने हैं उन्होंने बैंगलोर को कई मौकों पर जीत दिलाई है।
 
इस टूर्नामेंट मे भी अपनी टीम बैंगलोर को यहां तक पहुंचाने में कोहली का अहम योगदान रहा है। कोहली अब तक खेले गए 15 मैचों में 130 के ऊपर के स्ट्राइक रेट से 493 रन बना चुके हैं।  
 
बहरहाल धोनी ने भी इस सीजन में अपनी टीम को लगातार जीत दिलवाई है। पिछले इक्का-दुक्का मैचों को छोड़ दिया जाए तो धोनी की टीम ने टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है।
 
पिछले मैच में धोनी को अपने आतिशी बल्लेबाज ब्रेंडन मैक्कुलम की कमी बहुत खली और टीम को मुंबई इंडियंस के हांथों लंबे अंतर से हार का सामना करना पड़ा। दरअसल टीम में कई बड़े चेहरे हैं जो एक ईकाई में प्रदर्शन करके टीम को जीत दिला सकते हैं। इनमें ड्वेन ब्रावो का नाम सबसे ऊपर है।
 
ड्वेन ब्रावो का नाम इस बार की पर्पल कैप के हकदारों में लिया जा रहा है। ब्रावो इस संस्करण में खेले गए अब तक 15 मैचों में 23 विकेट ले चुके हैं।
 
वहीं आशीष नेहरा ने भी इस टूर्नामेंट में प्रभावशाली प्रदर्शन किया है। एक ओर सितारों से भरी टीम बैंगलोर जिसमें गेल, डीविलियर्स, और कोहली जैसे दिग्गज हैं वहीं दूसरी ओर धोनी,रैना और मैक्कुलम जैसे सितारों से सजी चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच मुकाबला रोचक होने की पूरी उम्मीद है। 
 
धोनी पहले ही टेस्ट मैचों से संन्यास ले चुके हैं। क्रिकेट का टी20 प्रारूप शुरू से ही उनका पसंदीदा रहा है। ऐसे में वे गुरुवार को होने वाले में सब-कुछ झोंकना चाहेंगे। दरअसल धोनी यह मैच अपने घरेलू दर्शकों के सामने खेलने वाले हैं तो ऐसे में उन्हें घरेलू दर्शकों का भी साथ मिलेगा। धोनी ऐसे में अपनी टीम को एक बार फिर से खिताब की ओर ले जाना चाहेंगे। वहीं दूसरी ओर बैंगलोर खिताब का सूखा करने की कोशिश करेगा।
 
बैंगलोर में बड़े-बड़े चेहरे हैं बावजूद इसके वे अब तक कोई भी आईपीएल खिताब अपने नाम नहीं कर पाए हैं। आईपीएल के बीच में बैंगलोर थोड़ा सा गड़बड़ा गई थी, लेकिन उसके बाद से बैंगलोर का प्रदर्शन शानदार रहा है। विराट कोहली आजकल शानदार फॉर्म में हैं और वे अपनी टीम को फाइनल में ले जाने की भरकस कोशिश करेंगे।                                           

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :