चीन में बढ़ता कर्ज, अर्थव्यवस्था के लिए खतरा

वाशिंगटन| पुनः संशोधित गुरुवार, 20 अप्रैल 2017 (17:11 IST)
वाशिंगटन। (आईएमएफ) ने कर्ज में उछाल को लेकर चिंता जताई है। एक दशक से भी कम समय में में ऋण वृद्धि दोगुनी हो गई है जो दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के लिए खतरनाक हो सकता है।
के मौद्रिक और पूंजी बाजार विभाग के वित्तीय सलाहकार और निदेशक तोबियास एड्रियान ने कहा कि चीन वैश्विक वृद्धि में प्रमुख योगदानकर्ता बना हुआ है लेकिन उसकी स्थिति नाजुक हुई है। एक दशक से भी कम समय में चीन की अर्थव्यवस्था में कर्ज 200 प्रतिशत से भी अधिक बढ़ा है। कर्ज में यह उछाल खतरनाक हो सकता है।

वैश्विक स्थिरता रिपोर्ट 2017 जारी करते हुए उन्होंने कहा कि ‘‘यह उछाल बना रहता है और कर्ज में आगे भी अच्छी वृद्धि होती है तो यह और ज्यादा खतरनाक होगा।
हालांकि एड्रियान ने रेखांकित किया कि चीनी प्राधिकरण लगातार बैंकों की वृद्धि को सीमित करने के लिए नीतियों को समायोजित कर रहा है, लेकिन उन्होंने जोर देकर कहा कि स्थिति को ठीक करने के लिए अभी बहुत कुछ किए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि चीनी अर्थव्यवस्था में ऋण वृद्धि 2008 के वित्तीय संकट के बाद से तेजी से बढ़ी है और कुल मिलाकर कर्ज काफी बढ़ा है। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :