0

बिन मांगी मुराद पूरी करते हैं भारत के महान संत दादा धूनीवाले

शुक्रवार,दिसंबर 1, 2017
0
1
23 नवंबर 1926 को जिस क्षण श्री सत्य साईं ने जन्म लिया, उस समय घर में रखे सभी वाद्ययंत्र स्वत: बजने लगे और एक रहस्यमय ...
1
2
महान संत और ईश्वर के अवतार श्री सांई बाबा की जन्मतिथि, जन्म स्थान और माता-पिता का किसी को भी ज्ञान नहीं है। इस संबंध ...
2
3
संत नामदेवजी का जन्म महाराष्ट्र के जिला सातारा के नरसी बामनी गांव में कार्तिक शुक्ल एकादशी को हुआ था। उनके पिता का नाम ...
3
4
देश भर में महर्षि वाल्मीकि की जयंती को श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया जाता है। इस अवसर पर शोभायात्राओं का आयोजन भी होता ...
4
4
5
तुलसी और 'श्री रामचरित मानस' एक-दूसरे के पर्याय लगते हैं। तुलसी का मानस केवल राम के चरित्र का ही वर्णन नहीं है, अपितु ...
5
6
भारतीय संस्कृति में गुरु का बहुत महत्व है। महर्षि वेद व्यास चारों वेदों के प्रथम व्याख्याता थे जिन्होंने हमें वेदों का ...
6
7
साधू भूखा भाव का, धन का भूख नाहिं। धन का भूखा जो फिरै, सो तो साधु नाहिं।।
7
8
संत कबीर दास भक्‍तिकाल के एकमात्र ऐसे कवि हैं, जिन्‍होंने अपना संपूर्ण जीवन समाज सुधार के कार्यो में लगा दिया। कबीर ...
8
8
9
आज महान कवि एवं संत कबीर दास की जयंती है। कबीर भारतीय मनीषा के प्रथम विद्रोही संत हैं, उनका विद्रोह अंधविश्वास और ...
9
10
महामना संत कबीर भारतीय संत परंपरा और संत-साहित्य के महान हस्ताक्षर हैं। हमारे यहां संत-साहित्य का एक विशिष्ट महत्व रहा ...
10
11
दिल-दिमाग को टटोल याद करने की कोशिश करती हूं कि कबीर से मेरा परिचय कितना पुराना है। कक्षा 3 में पढ़े 'नीति के दोहे' ...
11
12
हिन्दू मान्यताओं के अनुसार संत श्री रामानुजाचार्य का जन्म सन् 1017 में श्री पेरामबुदुर, तमिलनाडु के एक ब्राह्मण परिवार ...
12
13
जगतगुरु आदिशंकराचार्य अलौकिक प्रतिभा, प्रकाण्ड पाण्डित्य, प्रचण्ड कर्मशीलता के धनी थे। इस धराधाम में वैशाख शुक्ल पंचमी ...
13
14
संपूर्ण भारत में कई कवि और गायक हुए लेकिन सूरदास का नाम उन सभी में सर्वाधिक प्रसिद्ध और महान कवि के तौर पर लिया जाता ...
14
15
कवि सूरदास का जन्म दिल्ली के समीपस्थ सीही नामक ग्राम में माना जाता है। परंतु कुछ विद्वान मथुरा और आगरा के बीच स्थित ...
15
16
श्री सत्य साईं बाबा का जन्म 23 नवंबर 1926 को आंध्रप्रदेश के पुट्‍टपर्थी गांव में हुआ था। वे पेदू वेंकप्पाराजू एवं मां ...
16
17
जब-जब भारत भूमि पर आदमी अज्ञान के अंधेरे में भटका है, तब-तब इस पवित्र धरती पर महान आत्माओं ने जन्म लेकर ज्ञान की रोशनी ...
17
18
श्री सत्य सांई बाबा आध्यात्मिक गुरु थे, उनके संदेशों ने पूरी दुनिया के लोगों को सही नैतिक मूल्यों के साथ उपयोगी जिंदगी ...
18
19
महाप्रभुजी श्री वल्लभाचार्य का प्राकट्य वैशाख कृष्ण एकादशी को चम्पारण्य (रायपुर, छत्तीसगढ़) में हुआ था। सोमयाजी कुल के ...
19