Widgets Magazine

चलिए बढ़ाएं 7 कदम, फिर देखें सेहत का दम

आपकी बस दूर है...
डॉ. टी.एस. क्लेर


यूं तो सेहतमंद रहने के कई सूत्र होते हैं लेकिन सबसे कारगर सूत्र वही है, जो आपका जीवनभर साथ निभाए। कभी भी ऐसा संकल्प न लें जिसे आप लंबे समय तक निभा न सकें। मसलन, आप कल से 10 किलोमीटर पैदल चलने का संकल्प कर लें और इसे एक दिन भी नहीं पूरा न कर पाएं तो कोई फायदा नहीं होगा। इसके विपरीत यदि आप 1 किलोमीटर प्रतिदिन चलने का संकल्प कर लें तो 100 प्रतिशत संभावना है कि आप इसे निभा ले जाएंगे।

हो सकता है कि 1 किलोमीटर से शुरू करके आप 10 किलोमीटर तक भी पहुंच जाएं। इसलिए शरीर पर उतना ही बोझ लादिए, जो उठाने में आसान हो, बाद में वजन बढ़ाया जा सकता है, लेकिन शुरू से ही ज्यादा वजन उठाने का खयाल ही गलत है।

हर बार लिया गया संकल्प फीका पड़ने लगता है। क्यों न इस बार साल के हर माह ऐसा संकल्प लिया जाए, जो लचीला हो। जिसके लिए आपको अपने जीवन में कम बदलाव लाना पड़ें। जिन्हें अपनाना भी इतना आसान हो कि संकल्प आजीवन आपसे जुड़ा रहे।

1-पानी पिएं : पानी आपके शरीर का प्रमुख तत्व है, आपके वजन का करीब 60 प्रतिशत अंश पानी ही होता है। शरीर की एक-एक प्रणाली को पानी की आवश्यकता होती है (औसतन एक वयस्क को हर रोज न्यूनतम 1.5 लीटर पानी चाहिए)।

2 -नमक की मात्रा कम करें : तेज नमक वाले व्यंजनों जैसे अचार, पापड़, चटनी, नमकीन-दही, केन्ड सूप और सब्जियों से बचें, क्योंकि इनमें नमक की मात्रा सामान्य से अधिक होती है (प्रतिदिन 5 ग्राम से कम नमक आदर्श होता है)।

3-ताजा सब्जियां और फल अधिक से अधिक खाएं।

4-वजन कम रखें : अतिरिक्त वजन की वजह से भी आपकी सेहत के मामले में जोखिम बढ़ता है और आपको हृदय रोगों तथा मधुमेह जैसे रोगों के होने की आशंका अधिक हो जाती है। यदि आपका वजन सामान्य से अधिक है या आप मोटापे के शिकार हैं तो अपने खान-पान में धीरे-धीरे, मगर सेहतमंद बदलाव लाने की शुरुआत कर दें। अपनी शारीरिक सक्रियता बढ़ाएं (हर रोज एक समय पर वजन लें, खासतौर से सवेरे उठने के बाद और दिन में पहली बार पेशाब करने के बाद)। यदि एक दिन में वजन 1 /1-1 किग्रा या एक सप्ताह में 1-2 किग्रा से ज्यादा बढ़े तो तुरंत इस बारे में सलाह करें।

5- ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल लेवल की जांच करवाएं : उच्च रक्तचाप वाले लोगों में स्ट्रोक होने या दिल का दौरा पड़ने का खतरा हमेशा रहता है। हर रोज अपना ब्लड प्रेशर मापें और यदि जरा भी बदलाव देखें तो डॉक्टर से मशविरा करें। रक्तचाप कम रहने से दिल पर दबाव कम रहता है।

6- शारीरिक रूप से चुस्त बनें : व्यायाम करने से शरीर की ताकत बढ़ती है और हृदय समेत अन्य अंगों की मांसपेशियां भी मजबूत बनती हैं। धीरे-धीरे व्यायाम की आदत बनाएं ताकि शरीर में खुद-ब-खुद क्षमता भी विकसित हो जाए। शारीरिक व्यायाम के लिए आप अलग-अलग एरोबिक्स गतिविधियों को अपना सकते हैं। तैराकी, साइकल चलाना आदि।

7- धूम्रपान छोड़ें : धूम्रपान की वजह से ब्लड प्रेशर बढ़ता है। व्यायाम करने की क्षमता घटती है और रक्त का थक्का जमने की जोखिम भी अधिक रहती है।

इन 7 उपायों पर अमल कर आम उत्तम स्वास्थ्य की राह पर चल सकते हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :