Widgets Magazine

नेपाल के लिए स्पिनर तैयार करेंगे वेंकटपति राजू

पुनः संशोधित सोमवार, 8 जून 2015 (16:59 IST)
नई दिल्ली। भारत के पूर्व वेंकटपति राजू धर्मशाला में चल रहे 15 दिवसीय शिविर में भूकंप  प्रभावित के राष्ट्रीय टीम का मार्गदर्शन करने के लिए तैयार हैं। एशियाई क्रिकेट परिषद के  विकास अधिकारी के रूप में राजू इससे पहले संयुक्त अरब अमीरात और थाइलैंड टीम के साथ अपने  अनुभव बांट चुके हैं।

नेपाल के मुख्य कोच और पूर्व श्रीलंकाई खिलाड़ी पुबुदु दस्सानायके ने धर्मशाला से बताया कि हमें बताया  गया है कि वेंकटपति राजू 11 जून को यहां आ रहे हैं और एक सप्ताह के साथ लड़कों के साथ काम  करेंगे।

उन्होंने कहा कि वे हमारे स्पिनरों के साथ काम करेंगे और मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि उनके  योगदान से हमें मदद मिलेगी। हमने सुना है कि राजस्थान रॉयल्स के कोच मोंटी देसाई भी आने वाले  दिनों में हमसे जुड़ेंगे। बीसीसीआई ने कहा है कि हमें अन्य विशेषज्ञों की तरफ से मदद उपलब्ध कराई  जाएगी।

मुख्य कोच ने कहा कि स्पिनर हमारी ताकत हैं। हमारे पास बसंत रेगमी और शक्ति गाउचन के रूप में दो  स्तरीय बाएं हाथ के स्पिनर और दो ऑफ स्पिनर हैं इसलिए राजू उन्हें ब्रिटेन की परिस्थितियों में ढलने  के बारे में बताएंगे। बीसीसीआई ने जो हमें दिया है उसको लेकर हम बहुत खुश हैं। नेपाल के कप्तान  पारस खड़का ने भी राजू का स्वागत किया।

खड़का ने कहा कि भारत में आपके पास सभी बड़े विशेषज्ञ हैं जिनसे मदद ली जा सकती है। यह बहुत  अच्छा है कि राजू यहां होंगे। हमसे उनसे अधिकतम चीजें सीखकर क्वालीफायर के लिए सबसे अच्छी  तैयारी करनी है।

टी-20 विश्व कप में जगह बनाने के लिए हुए क्वालीफायर में नेपाल तीसरे स्थान पर रहा था। इस बार  टीम की निगाहें इस प्रतियोगिता को जीतने पर लगी हुई हैं। भारत पीड़ित अपने पड़ोसी की मदद  के लिए हरसंभव प्रयास कर रहा है। (भाषा)


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine