वैशाख माह शुरू, करें श्रीहरि विष्णु की आराधना, पढ़ें अपनी राशि का मंत्र

vaishakh maas
* श्रीहरि विष्णु का प्रिय माह है वैशाख, ऐसे करें अपनी राशिनुसार आराधना

ॐ विश्वं विष्णुर्वषट्कारो भूतभव्यभवत्प्रभु:।
भूतकृभ्दूतभृभ्दावों भूतात्मा भूतभावन:।।

धार्मिक ग्रंथों के अनुसार में भगवान श्रीहरि विष्णु जी की आराधना महत्वपूर्ण मानी गई है। इस माह में विष्णु जी की आराधना विशेष फलदायक होती है। इस वर्ष वैशाख मास का प्रारंभ 20 अप्रैल, शनिवार से होकर 18 मई 2019, शनिवार वैशाख पूर्णिमा तक जारी रहेगा।

ज्ञात हो कि हिन्दू नववर्ष का प्रारंभ चैत्र माह से होता है अर्थात चैत्र नवरात्रि के प्रथम दिवस, गुड़ी पड़वा से प्रारंभ होकर फाल्गुन की पूर्णिमा तक रहता है। इन 12 महीनों में वैशाख, श्रावण व कार्तिक विशेष पुण्य कार्य करने वाले होते हैं।

अत: विष्णु जी के साथ वैशाख में पूरे माह शालिग्राम, चांदी के बिल्वपत्र, चांदी की तुलसी, दक्षिणमुखी शंख एवं गोमती चक्र- इन पांचों को लाल कपड़े में रखकर 'ॐ नमो भगवते वासुदेवाय' का जप करते हुए पूजन करना चाहिए। वैशाख मास में अपनी राशि अनुसार श्री का स्मरण करते हुए पूजन करें, आपके अवश्य पूर्ण होंगे।
आइए जानें अपनी राशिनुसार कैसे करें पूजन :-

मेष : 'ॐ नारायणाय नम:'

वृषभ : 'ॐ षट्कारो नम:'

मिथुन : 'ॐ मित्राय नम:'

कर्क : 'ॐ हरिहर नम:'

सिंह : 'ॐ परमात्मने नम:'

कन्या : 'ॐ विश्वं नम:'

तुला : 'ॐ विश्वरूपाय नम:'

वृश्चिक : 'ॐ मोक्षदाय नम:'

धनु : 'ॐ बलभाय नम:'

मकर : 'ॐ वामनदेवाय नम:'

कुंभ : 'ॐ अनंताय नम:'

मीन : 'ॐ भक्तवत्सलाय नम:'।


 

और भी पढ़ें :