इस मकर संक्रांति का ऐसा होगा स्वरूप, पढ़ें पुण्यकाल मुहूर्त

sankranti muhurat
 
सूर्य समस्त ग्रहों में प्रथम माना जाता है इसलिए सूर्य को भगवान की संज्ञा दी गई है। मकर राशि में सूर्य का प्रवेश ही 'मकर संक्रांति' कहलाती है। इस बार इसका स्वरूप कैसा है आइए जानते हैं। माघ कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मूल नक्षत्र, ध्रुव योग, वणिज करण पर सूर्यदेव का आगमन हो रहा है।
 
इस बार संक्रांति वाहन महिष, उपवाहन ऊंट, वस्त्र श्याम, आयुध तोमर, जाति विप्र, भक्षण दही, लेपन आंवला, वय प्रगल्भा, पात्र पीकर, भूषण मणि, कंचुक श्वेत, स्थिति खड़ी, फल क्लेश है। संक्रांति मूल में होने से 30 मुहूर्ती है। इसका फल 'सम' कहा गया है।
 
संक्रांति बैठी होने से रोग होता है व महंगाई बढ़ने से चिंता का कारण बनती है। अपरान्ह होने से वैश्यों को कष्टदायी रहती है। अन्य जातियां सुखपूर्वक  रहती हैं। इसका गमन पश्चिम कोण में होने से पश्चिम में यह कष्टकारी रहेगी। 
 
संक्रांति रविवार को है तथा इसका गमन दक्षिण में व दृष्टि नैऋत्य पर है। रविवार को होने से शासक वर्ग में परस्पर विरोधाभास रहता है। अग्निकांड, दो देशों में युद्ध की आशंका रहती है। अन्न, गेहूं, जो, चना, उड़द, मूंग, बाजरा में घट-बढ़ होकर तेजी का रुख रहता है। गुड़, खांड, शकर, सरसों, अलसी, तेल, तिल, रेशमी, ऊनी वस्त्र में तेजी की स्थिति रहती है। चांदी, चावल में मंदी की स्थिति रहती है। मसाले, नमक, मिर्च धनिया, गोला, किशमिश, दाख, छुआरा में मंदी होकर तेजी का माहौल बनता है।
 
मकर संक्रांति मुहूर्त
 
: 13.35.00 से 17.45.06 तक
 
अवधि : 4 घंटे 4 मिनट
 
महापुण्यकाल मुहूर्त : 13.35.00 से 13.59.00 तक
 
अवधि : 0 घंटे 24 मिनट
 
संक्रांति पल : 13.35.00
 
देश के लिए कैसी होगी संक्रांति 
 
वृषभ लग्न में संक्रांति है अत: चतुर्थ (सुख भाव) का स्वामी अष्टम में संक्रांति काल में है। इस स्थिति में होने से देश में जनता के सुखों के लिए कुछ खास नहीं होगा। जनता में रोग, शोक का कारण बनेगा। लग्नेश शुक्र केतु के साथ होने से स्त्री जाति को कष्ट रहता है।> > राजनीति में कशमकश की स्थिति रहती है। शत्रु वर्ग प्रभावी होते हैं, लेकिन मंगल के षष्ट भाव में गुरु के साथ होने से सफलता भी मिलती है।  

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

राशिफल

गोमती चक्र के यह 5 टोटके आपको हिला कर रख देंगे,शुभता के लिए ...

गोमती चक्र के यह 5 टोटके आपको हिला कर रख देंगे,शुभता के लिए अवश्य आजमाएं
आइए जानते हैं, गोमती चक्र के यह 5 चमत्कारी टोटके जो आपके जीवन की दिशा बदल देंगे।

सुख, चैन और प्रेम के लिए यह 6 चांदी की शुभ चीजें रखें अपने ...

सुख, चैन और प्रेम के लिए यह 6 चांदी की शुभ चीजें रखें अपने घर में...
चांदी के इन उपायों से धन, समृद्धि, शांति और सेहत बढ़ती है। घटना-दुर्घटना, गृहकलह और ...

परीक्षा से पहले अंडा खाएंगे तो अंडा ही मिलेगा... पढ़ें ...

परीक्षा से पहले अंडा खाएंगे तो अंडा ही मिलेगा... पढ़ें कैसे-कैसे अंधविश्वास प्रचलित हैं विदेशों में
विदेशों में कई तरह की अजीबोगरीब मान्यताएं है, जिन्हें पढ़कर कभी आप हैरत में पड़ जाएंगे तो ...

ज्योतिष के अनुसार सूर्य की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते ...

ज्योतिष के अनुसार सूर्य की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते होंगे...
ज्योतिष के अनुसार ग्रह की परिभाषा अलग है। भारतीय ज्योतिष और पौराणिक कथाओं में नौ ग्रह ...

घर को पेंट करवाने से पहले पढ़ें ये 5 वास्‍तु टिप्स

घर को पेंट करवाने से पहले पढ़ें ये 5 वास्‍तु टिप्स
क्या आप अपने नए घर को पेंट करवाने का सोच रहे हैं? या अपने पुराने आशियाने को ही नई रंगत ...

ज्योतिष के अनुसार बुध की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते ...

ज्योतिष के अनुसार बुध की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते होंगे...
ज्योतिष के अनुसार हर ग्रह की परिभाषा अलग है। यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत है बुध के बारे ...

चमत्कार हो जाएगा जीवन में इन 11 में से कोई एक चीज घर में ...

चमत्कार हो जाएगा जीवन में इन 11 में से कोई एक चीज घर में लाकर रखें
इन 11 चीजों में से कोई एक भी अगर आपने घर में लाकर रखी तो जीवन में होने वाले बदलाव आपको ...

19 जून 2018 के शुभ मुहूर्त

19 जून 2018 के शुभ मुहूर्त
शुभ विक्रम संवत- 2075, अयन- उत्तरायन, मास- ज्येष्ठ, पक्ष- शुक्ल, हिजरी सन्- 1439, मु. ...

करण क्या है और किस करण में नहीं करें शुभ कार्य?

करण क्या है और किस करण में नहीं करें शुभ कार्य?
हिंदू पंचांग के पंचांग अंग है:- तिथि, वार, नक्षत्र, योग और करण। उचित तिथि, वार, नक्षत्र, ...

16 जुलाई तक सूर्य रहेंगे मिथुन राशि में, कैसा होगा समय 12 ...

16 जुलाई तक सूर्य रहेंगे मिथुन राशि में, कैसा होगा समय 12 राशियों के लिए...
15 जून 2018 को सूर्य ने मिथुन राशि में प्रवेश कर लिया है। सूर्य के इस गोचर का 12 राशियों ...