आहार के कुछ खास नियम

कुछ बिन्दू सेहत के लिए

NDND
आज के स्वादिष्ट खाने के बजाए बच्चों एवं बड़ों में फास्ट फूड की ओर रुझान बढ़ रहा है। इसके चलते छोटे-छोटे बच्चे भी मोटापे व मधुमेह जैसी समस्याओं के शिकार हो रहे हैं। ऐसे समय में यदि गृहणियाँ थोड़ी सी सुझबूझ से काम लें तो स्वाद व सेहतयुक्त भोजन से सबको जोड़ सकती हैं।

सुव्यवस्थित व स्वच्छ घर की आत्मा होता है हमारा रसोईघर। जहाँ बने भोजन से आनंद तथा तृप्ति मिलती है। लेकिन कभी-कभी हम स्वाद व स्वच्छता को से अधिक महत्व देकर आवश्यक पोषक तत्वों को नष्ट कर देते हैं। अतः यदि थोड़ी सी समझदारी व सावधानी भोजन बनाने में शामिल हो जाए तो क्या कहना।

भोजन में स्वास्थ्य व स्वाद का मेल होना जरूरी है। संतुलित भोजन में कार्बोहाईड्रेट, प्रोटीन, विटामिन, जल खनिज लवण व रेशे की विशेष उपस्थिति रहती है। संतुलित व स्वास्थ्यवर्धक भोजन का महँगा होना जरूरी नहीं है। सस्ते दाम पर भी स्वास्थ्यवर्धक भोजन, फल- सब्जी हम पा सकते हैं।

कुछ बिन्दू स्वास्थ्य के लि

NDND
* प्रतिदिन बच्चों को प्यार से जगाएँ व उन्हें बासी मुँह पानी पीने की आदत डालें।

* चाय की जगह ताजा दूध उबालकर ठंडा करके बच्चों को दें। इसमें प्राप्त प्रोटीन व कैल्शियम शारीरिक विकास के लिए जरूरी होता है।

* सुबह नाश्ते में तले हुए पदार्थ की जगह उबले चने, चोकर वाले आटे के बिस्किट, अंकुरित मूँग, मोठ व चने की चाट बनाएँ जिसमें हरा धनिया, खोपरा, प्याज, टमाटर, हल्का सा नमक व जीरा डालकर, नीबू निचोड़कर बच्चों को दीजिए, जो विटामिन ई से भरपूर है। यह चेहरे की चमक बढ़ाकर उर्जावान बनाएगा।

* सब्जियों को उपयोग करते समय पहले उन्हें दो तीन पानी से धो लें। छीलते समय पतला छिलका उतारें क्योंकि छिलके व गूदे के बीच की पतली परत विटामिन बी से भरी होती है।

* सब्जियों को अधिक देर तक न पकाएँ,नहीं तो उसके पोषक तत्व नष्ट हो जाएँगे। इसी तरह हरी पत्तेदार सब्जियों से मिलने वाले आयरन की कमी को कैप्सूल व दवाइयों के रूप में पूर्ति करने से बेहतर है कि इनको अपने भोजन में शामिल करें।

WD|
निर्मला मूणत
NDND
* सप्ताह में एक दो दिन पत्तेदार हरी सब्जी जैसे पालक, मैथी, मूली के पत्ते, चौलाई व सरसों का साग जरूर खाएँ। इन सब्जियों को छिलके वाली दालों के साथ भी बना सकते हैं क्योंकि दालें भी प्रोटीन का एक बड़ा स्रोत हैं। अतः इन्हें नियमित रूप से अपने भोजन में स्थान जरूर दें।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :