श्रावण मास में इस उपाय और मंत्र-पूजा से चमकेगी किस्मत, दुखों का होगा अंत, न जाने दें अवसर

चमकदार किस्मत के लिए राशि के अनुसार करें
पूजन
: 12 राशियों के लिए पूजन के विशेष प्रकार

श्रावण पर्व पर अलग-अलग राशि के लोगों के लिए विशेष पूजन के प्रकार का प्रावधान है। भगवान शिव यूं तो मात्र जल और बिल्वपत्र से प्रसन्न हो जाते हैं लेकिन उनका पूजन अगर अपनी राशि के अनुसार किया जाए तो अतिशीघ्र फल की प्राप्ति होती है।

मेष- रक्तपुष्प से पूजन करें तथा अभिषेक शहद से करें। 'ॐ नम: शिवाय' का जप करें।

वृषभ- श्वेत पुष्प तथा दुग्ध से पूजन-अभिषेक करें। महामृत्युंजय का मंत्र जपें।

मिथुन- अर्क, धतूरा तथा दुग्ध से पूजन-अभिषेक करें। शिव चालीसा पढ़ें।
कर्क- श्वेत कमल, पुष्प तथा दुग्ध से पूजन-अभिषेक करें। शिवाष्टक पढ़ें।

सिंह- रक्त पुष्प तथा पंचामृत से पूजन-अभिषेक करें। शिव महिम्न स्त्रोत पढ़ें।

कन्या- हरित पुष्प, भांग तथा सुगंधित तेल से पूजन-अभिषेक करें। शिव पुराण में वर्णित कथा का वाचन करें।

तुला- श्वेत पुष्प तथा दुग्ध धारा से पूजन-‍अभिषेक करें। महाकाल सहस्त्रनाम पढ़ें।

वृश्चिक- रक्त पुष्प तथा सरसों तेल से पूजन-‍अभिषेक करें। शिव जी के 108 नामों का स्मरण करें।

धनु- पीले पुष्प तथा सरसों तेल से पूजन-‍अभिषेक करें। 12 ज्योतिर्लिंगों का स्मरण करें।
मकर- नीले-काले पुष्प तथा गंगाजल से पूजन-‍अभिषेक करें। शिव पंचाक्षर मंत्र का जप करें।
शिव पंचाक्षरी मंत्र- नम: शिवाय।

कुंभ- जामुनिया-नीले पुष्प तथा जल से पूजन-‍अभिषेक करें। शिव षडाक्षर मंत्र का 11 बार स्मरण करें।
शिव षडाक्षरी मंत्र- ॐ नम: शिवाय।

मीन- पीले पुष्प तथा मीठे जल से पूजन-‍अभिषेक करें। रावण रचित शिव तांडव का पाठ करें।
नोट : पूजन में पहले ध्यान, आवाहन, आसन, पाद्य, अर्घ्य, आचमन, स्नान, पंचामृत स्नान, शुद्धोदक जल स्नान, वस्त्र, यज्ञोपवीत, उपवस्त्र, चंदन, अक्षत, पुष्प, पुष्प माला, धूप-दीप, नैवेद्य नीराजन, पुष्पांजलि, परिक्रमा, क्षमा-प्रार्थना इत्यादि मूल मंत्र का प्रयोग करें।

भोलेनाथ को बिल्वपत्र, भांग, अर्क पुष्प, धतूरे के पुष्प-फल भी चढ़ाए जाते हैं। जो वस्तु कम हो, उस वस्तु की जगह अक्षत का प्रयोग करें।
शिव पंचाक्षरी मंत्र- नम: शिवाय।

शिव षडाक्षरी मंत्र- ॐ नम: शिवाय।

मृत्युंजय मंत्र- ॐ जूं स:।

महामृत्युंजय मंत्र-


ॐ त्र्यम्बकम् यजामहे, सुगन्धिं पुष्टि वर्धनम्।
उर्वारु‍कमिव बन्धनात् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्।।

इन मंत्रों में से जो अच्‍छा लगे, उसका जाप तथा उसी से पूजन करें तथा लाभ उठाएं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

आध्यात्मिक क्रां‍ति की पहली चिंगारी थे महर्षि अरविन्द

आध्यात्मिक क्रां‍ति की पहली चिंगारी थे महर्षि अरविन्द
महर्षि अरविन्द आध्यात्मिक क्रां‍ति की पहली चिंगारी थे। वे बंगाल के महान क्रांतिकारियों ...

साईं बाबा ने जब कहा, 'गेरू लाओ, आज भगवा वस्त्र रंगेंगे'

साईं बाबा ने जब कहा, 'गेरू लाओ, आज भगवा वस्त्र रंगेंगे'
नासिक के प्रसिद्ध ज्योतिष, वेदज्ञ, 6 शास्त्रों सहित सामुद्रिक शास्त्र में भी पारंगत मुले ...

जानिए कैसा है सूर्य का स्वभाव, क्या पड़ता है आप पर इसका ...

जानिए कैसा है सूर्य का स्वभाव, क्या पड़ता है आप पर इसका प्रभाव
ज्योतिष में जन्मपत्रिका, बारह राशियों एवं नौ ग्रहों का विशेष महत्व है. .. ये नौ ग्रह ...

कैसे चल रहे हैं प्रधानमंत्री के सितारे, जानिए मोदी के लिए ...

कैसे चल रहे हैं प्रधानमंत्री के सितारे, जानिए मोदी के लिए कैसा होगा आने वाला समय ?
जन्मपत्रिका के माध्यम से किसी भी जातक का अतीत, वर्तमान और भविष्य बताया जा सकता है, फिर ...

वह स्थान जहां से हुआ था रुक्मिणी का हरण और श्रीकृष्ण की ...

वह स्थान जहां से हुआ था रुक्मिणी का हरण और श्रीकृष्ण की पुत्री भी थीं, जानिए रहस्य
श्रीकृष्ण ने रुक्मिणी का जिस मंदिर से हरण किया था। वह मंदिर वर्तमान में मौजूद है। इस ...

सूर्य का सिंह राशि में आगमन, क्या होगा आपकी राशि पर असर

सूर्य का सिंह राशि में आगमन, क्या होगा आपकी राशि पर असर
17 अगस्त 2018 से सूर्य ने सिंह राशि में गोचर किया है और 17 सितंबर 2018 तक इसी राशि पर ...

सूर्य का राशि परिवर्तन, जानिए किन राशि‍यों की बदलने वाली है ...

सूर्य का राशि परिवर्तन, जानिए किन राशि‍यों की बदलने वाली है किस्मत...
17 अगस्त 2018, को सूर्य ने सुबह 07.30 बजे सिंह राशि में गोचर कर लिया है और 17 सितंबर 2018 ...

17 अगस्त 2018 का राशिफल और उपाय...

17 अगस्त 2018 का राशिफल और उपाय...
प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। धनार्जन होगा। ...

17 अगस्त 2018 : आपका जन्मदिन

17 अगस्त 2018 : आपका जन्मदिन
दिनांक 17 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 8 होगा। यह ग्रह सूर्यपुत्र शनि से संचालित होता है। ...

17 अगस्त 2018 के शुभ मुहूर्त

17 अगस्त 2018 के शुभ मुहूर्त
शुभ विक्रम संवत- 2075, अयन- दक्षिणायन, मास- श्रावण, पक्ष- शुक्ल, हिजरी सन्- 1439, मु. ...

राशिफल