Widgets Magazine

दरिद्रता दूर करने के लिए श्रावण सोमवार को जपें यह 1 मंत्र



शिव जगतगुरु हैं... शिव ज्ञान, विवेक, तप के रूप में शक्ति, संकल्प और पुरुषार्थ की प्रेरणा देते हैं। शिव भक्ति से दरिद्रता और धन का अभाव कभी नहीं छूता। दरिद्रता और अभाव को दूर रखने के लिए विशेष मंत्र और पद्धति से की गई शिव पूजा बहुत ही प्रभावी मानी गई है।
 
धनार्जन की परेशानी के लिए सोमवार को जपें यह मंत्र... 
 
प्रात: नित्यकर्म से निवृत हो, स्नान कर आदिनाथ भगवान शंकर के साथ माता पार्वती और नंदी को गंगाजल या पवित्र जल चढ़ाएं। 
 
तत्पश्चात शिवजी को खास तौर पर चंदन, अक्षत, बिल्व पत्र, धतूरा या आंकड़े के फूल चढ़ाएं। 
 
उसके बाद शिव मंत्र की माला जपें : - 
 
मन्दारमालाङ्कुलितालकायै कपालमालांकितशेखराय।
दिव्याम्बरायै च दिगम्बराय नम: शिवायै च नम: शिवाय।।
श्री अखण्डानन्दबोधाय शोकसन्तापहा​रिणे।
सच्चिदानन्दस्वरूपाय शंकराय नमो नम:॥
 
मंत्र पाठ के बाद भगवान शिवजी को घी, शक्कर, गेंहू के आटे से बने प्रसाद का भोग लगाएं। इसके बाद धूप, दीप से आरती करें। प्रसाद सबसे पहले गुरुजनों, बुजुर्गों और परिवार, मित्र सहित ग्रहण करें। 


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine