बाइबिल से जानिए कैसे की ईश्वर ने सृष्टि की रचना...

सृष्टि के विभिन्न भाग जानिए... 
जब एक बढ़ई मेज बनाने की इच्छा करता है तो उसे पूर्व विद्यमान वस्तुओं जैसे लकड़ी, कीलें, आरी, हथौड़ी आदि की आवश्यकता पड़ती है, तब ही वह मेज बना सकता है। > वह मेज बनाता है... सृष्टि नहीं करता, क्योंकि केवल ही सृष्टि कर सकता है अर्थात बिना कुछ के किसी भी वस्तु को बनाना और ईश्वर ने ऐसा ही किया।
 
ईश्वर ने ऐसा क्यों किया? ईश्वर ने स्वेच्छा से संसार, और जो कुछ इसमें है, की रचना की कि हम उसकी अच्छाई और दयालुता के भागीदार बन सकें।> हम की प्रथम पुस्तक से जानते हैं कि ईश्वर ने संसार और जो कुछ भी इसमें है, सबकी 6 कालखंडों में रचना की जिन्हें 'दिन' भी कहते हैं।
 
 
* पहले दिन ईश्वर ने प्रकाश बनाया।
 
* दूसरे दिन उसने आकाश की रचना की और उसे स्वर्ग कहा।
 
* तीसरे दिन ईश्वर ने पानी को जमीन से अलग किया और आज्ञा दी कि पृथ्वी घास, फूल, पौधे आदि उत्पन्न करें।
 
* चौथे दिन ईश्वर ने सूर्य, चन्द्रमा और तारों को बनाया।
 
* पांचवें दिन उसने पक्षियों और मछलियों की सृष्टि की।
 
* छठवें दिन उसने दूसरे जानवरों को बनाया और अंत में मनुष्य की रचना की।
 
* सातवें दिन ईश्वर ने विश्राम किया।
 
 
आगे पढ़ें सृष्टि के विभिन्न भाग : -
 

 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :