श्रावण में श्रीराम भी देते हैं वरदान, रोग नाश करेगा यह छोटा सा राम मंत्र


श्रावण मास में भोलेनाथ शिव तो वरदान की मुद्रा में होते ही हैं परंतु सभी देवी देवता प्रसन्न रहते हैं। भगवान विष्णु शयन करते हैं लेकिन उनके अवतार श्रीराम के मनचाही कामना पूरी करते हैं। अगर घर में कोई लंबे समय से बीमार हैं तो श्रीराम का यह मंत्र इस मास में जपने से आशातीत लाभ मिलता है।

रोग नाशक राम मंत्र

राम कृपा नासहिं सब रोगा।
जौं एहि भांति बने संजोगा।।


केशर की स्याही से कागज के ऊपर ' राम' लिखकर उपरोक्त मंत्र पढ़ें। पुनः 'राम' शब्द लिखें और फिर उपरोक्त मंत्र पढ़ें। यही क्रिया 10001 बार करें। जब आवश्यकता हो कागज के ऊपर 'राम'
शब्द लिखकर उपरोक्त मंत्र पढ़ें।
इस भांति सात बार करके कागज को रोगी के सिरहाने रख दें। कितना ही असाध्य और पुराना रोगी भी स्वस्थ हो जाता है।

सावन सोमवार की पवित्र और पौराणिक कथा (देखें वीडियो)




वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine

और भी पढ़ें :