Widgets Magazine

ग्रहण काल में जपें यह मंत्र, करें हर समस्या का अंत


 
 
मंत्र सिद्धि के लिए सर्वश्रेष्ठ समय ग्रहण को माना गया है। ग्रहण काल में किसी भी एक मंत्र को, जिसकी सिद्धि करना हो या किसी विशेष प्रयोजन हेतु सिद्धि करना हो, जप सकते है। ग्रहण काल में मंत्र जपने के लिए माला की आवश्यकता नहीं होती बल्कि समय का ही महत्व होता है।
 
इस बार 7 अगस्त, सोमवार को खंडग्रास ग्रहण है। यह 1 घंटा 55 मिनट है। ग्रहण जब शुरू हो, तब से मंत्र जाप करना चाहिए व ग्रहण समाप्त हो, तब जाप बंद कर देना चाहिए। ग्रहण का प्रारंभ 7 अगस्त की रात्रि में 10 बजकर 52 मिनट 56 सेकंड है व ग्रहण समाप्त 7-8 अगस्त की रात्रि में 0.48 मिनट 9 सेकंड है। 
यदि आपके शत्रुओं की संख्या अधिक है व आप परेशान हैं तो बगुलामुखी का मंत्र जाप करें। मंत्र इस प्रकार है- 
 
ॐ ह्लीं बगलामुखी देव्यै सर्व दुष्टानाम वाचं मुखं पदम् स्तम्भय जिह्वाम कीलय-कीलय बुद्धिम विनाशाय ह्लीं ॐ नम:।
 
वाक् सिद्धि हेतु-
 
ॐ ह्लीं दूं दूर्गाय: नम:
 
लक्ष्मी प्राप्ति हेतु तांत्रिक मंत्र- 
 
ॐ श्रीं ह्लीं क्लीं ऐं ॐ स्वाहा:।
 
नौकरी एवं व्यापार में वृद्धि हेतु प्रयोग-
 
निम्नलिखित मंत्र का ग्रहणावधि तक लगातार जप करें- 
 
ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद-प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:।
 
मुकदमे में विजय के लिए-
 
ॐ ह्लीं बगलामुखी सर्वदुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तंभय जिह्ववां कीलय बुद्धि विनाशय ह्लीं ओम् स्वाहा।। 
 
इसमें 'सर्वदुष्टानां' की जगह जिससे छुटकारा पाना हो उसका नाम लें। 
 
कोई मंत्र तब ही सफल होता है, जब आप में पूर्ण श्रद्धा व विश्वास हो। किसी का बुरा चाहने वाले मंत्र सिद्धि प्राप्त नहीं कर सकते। मंत्र जपते समय एक खुशबूदार अगरबत्ती प्रज्ज्वलित कर लें। इससे मन एकाग्र होकर जप में मन लगता है व ध्यान भी नहीं भटकता है। 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

राशिफल

अक्षय तृतीया के 12 पौराणिक तथ्य जो आप नहीं जानते

अक्षय तृतीया के 12 पौराणिक तथ्य जो आप नहीं जानते
भारतीय पर्वों में अक्षय तृतीया पर्व का विशेष महत्व है। इस मुहूर्त को बेहद शुभ माना जाता ...

अक्षय तृतीया : कभी क्षय नहीं होता है इस दिन किया पुण्य

अक्षय तृतीया : कभी क्षय नहीं होता है इस दिन किया पुण्य
इस दिन जितना भी दान करते हैं उसका चार गुना फल प्राप्त होता है। इस दिन किए गए कार्य का ...

अक्षय तृतीया के 7 चमत्कारी उपाय, अवसर ना चूकें, जरूर आजमाएं

अक्षय तृतीया के 7 चमत्कारी उपाय, अवसर ना चूकें, जरूर आजमाएं
अक्षय तृतीया पर कई उपाय आजमाए जाते हैं। पढ़ें 5 सटीक उपाय, जो हर संकट से बचाए. ...

अक्षय तृतीया पर किए जाते हैं यह 14 दान, जरूर पढ़ें

अक्षय तृतीया पर किए जाते हैं यह 14 दान, जरूर पढ़ें
जो लोग इस दिन अपने सौभाग्य को दूसरों के साथ बांटते हैं वे ईश्वर की असीम अनुकंपा पाते हैं। ...

वैशाख मास में पड़ रहे हैं ये खास तीज-त्योहार, आप भी जानिए

वैशाख मास में पड़ रहे हैं ये खास तीज-त्योहार, आप भी जानिए
वैशाख का महीना सावन माह के समान पुण्यदायी होता है। इस माह किए गए पुण्य कार्य गरीबी व ...

19 अप्रैल 2018 : आपका जन्मदिन

19 अप्रैल 2018 : आपका जन्मदिन
दिनांक 19 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 1 होगा। आप राजसी प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं। आपको ...

19 अप्रैल 2018 के शुभ मुहूर्त

19 अप्रैल 2018 के शुभ मुहूर्त
शुभ विक्रम संवत- 2075, अयन- उत्तरायन, मास- वैशाख, पक्ष- शुक्ल, हिजरी सन्- 1439, मु. मास- ...

शुक्र का स्वराशि वृषभ में प्रवेश, क्या होगा 12 राशियों पर ...

शुक्र का स्वराशि वृषभ में प्रवेश, क्या होगा 12 राशियों पर असर...
20 अप्रैल 2018, शुक्रवार से शुक्र अपनी स्वराशि वृषभ में प्रवेश करेंगे। शुक्र को सौंदर्य, ...

23 अप्रैल को है मां बगलामुखी जयंती, जानें कैसे करें

23 अप्रैल को है मां बगलामुखी जयंती, जानें कैसे करें साधना...
सोमवार, 23 अप्रैल 2018 को बगलामुखी जयंती है। मां बगलामुखी की साधना शत्रु बाधा से मुक्ति ...

बृहस्पतिवार को करें मंगल दोष के ये उपाय, दूर होगा तनाव...

बृहस्पतिवार को करें मंगल दोष के ये उपाय, दूर होगा तनाव...
ज्यादातर ज्योति‍षी का मानना है कि अगर कुंडली में मंगल कमजोर हो तो गुरुवार का दिन प्रतिकूल ...