गोपाल कृष्ण गांधी : प्रोफाइल

पारिवारिक पृष्ठभूमि : महात्मा गांधी के पोते गोपालकृष्ण गांधी का जन्म 22 अप्रैल 1946 को हुआ था। गोपाल कृष्ण गांधी ने पढ़ाई दिल्ली के सेंट स्टीफन कॉलेज से अंग्रेजी में मास्टर्स की डिग्री पूरी की। देवदास गांधी और लक्ष्मी देवी उनके पिता और माता थे। गोपाल कृष्ण गांधी एक सिविल सेवक और पूर्व में एक राजनयिक रह चुके हैं। गोपाल कृष्ण गांधी बंगाल के राज्यपाल पद पर भी रहे हैं। भारत के अंतिम गवर्नर जनरल सी राजगोपालाचारी
गोपाल कृष्ण गांधी के नाना थे। गोपाल कृष्ण गांधी के चौथे और सबसे छोटे बेटे देवदास गांधी के बेटे हैं। इनकी
Widgets Magazine
मां का नाम लक्ष्मी गांधी है।

1968 से 1992 तक गोपाल कृष्ण भारतीय प्रशासनिक सेवा में रहे। 1985 से 1987 तक वे उप राष्ट्रपति के सचिव पद पर भी रहे। इसके बाद साल 1987 से 1992 तक वे राष्ट्रपति के संयुक्त सचिव भी रहे और 1997 में राष्ट्रपति के सचिव भी बने। गोपाल कृष्ण गांधी दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका में राजनयिक के तौर पर भी काम
कर चुके हैं। वर्ष 2004 में इन्हें बंगाल के राज्यपाल पद पर नियुक्त किया गया था। गोपालकृष्ण गांधी की दो बेटियां हैं।

गोपाल कृष्ण गांधी यूनिइडेट किंगडम में भारतीय उच्चायुक्त में सांस्कृतिक मंत्री के पद का दायित्व भी संभाल चुके हैं। साथ ही वे लंदन में नेहरू सेंटर के डायरेक्टर भी रह चुके हैं। गांधी ने लिसोटो में भी भारतीय उच्चायुक्त का पदभार भी संभाला था। गोपाल कृष्ण गांधी, साल 2000 में श्रीलंका में भारतीय उच्चायुक्त, 2002 में नॉर्वे में भारतीय राजदूत और आइसलैंड में भी बतौर भारतीय राजदूत अपनी सेवाएं दे चुके हैं। 2004 से 2009 तक वे पश्चिम बंगाल के गवर्नर भी रह चुके हैं।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।


Widgets Magazine

और भी पढ़ें :