आपका बेडरूम कैसा है, जानिए होम डेकोर टिप्स


हुजूर चौधरी

को हमेशा से ही निजी कक्ष के रूप में ट्रीट किया जाता है। आधुनिक घरों में भी बेडरूम का यही दर्जा बरकरार है। यह घर की सबसे लक्जरियस और व्यक्तिगत पसंद की जगह होती है। हमारे जीवन का एक तिहाई हिस्सा सोने में गुजरता है। इसलिए बेडरूम हमारे जीवन का महत्वपूर्ण भाग होता है। हर व्यक्ति का बेडरूम उसकी पर्सनेलिटी और सोशल स्टेटस को व्यक्त करता है। इसलिए हर व्यक्ति के मुताबिक अलग-अलग होता है।

ALSO READ:
नए घर में देना है उपहार, तो यह 6 चीजें हैं शुभ और शानदार


एक अच्छे शानदार हो सकता है। उस कक्ष की अपनी बैठक या डेस्क हो सकती है। यहां व्यक्ति की रुचि के मुताबिक सुविधा और वैराइटी के लिए कई प्रयोग किए जा सकते हैं। उपयोग करने वाले की ही पसंद के मुताबिक बेडरूम को कई तरह से सजाया जा सकता है। इस रूम के फर्नीचर और एसेसरीज लोकल ट्रेडिशन और एसेसरीज की उपलब्धता पर निर्भर करते हैं।

एक सुविधाजनक बेड, साइड टेबल, मेट्रेस और वार्डरोब किसी भी बेडरूम के अनिवार्य अंग हैं। सुखद नींद के लिए एक अच्छी क्वॉलिटी की मेट्रेस होना जरूरी है। बेहतर बेक सपोर्ट वाली मेट्रेस ज्यादा बेहतर आराम देगी। बेड पर हेड रेस्ट और बेड के पीछे की दीवार पर लेदर का प्रयोग कमरे को प्रभावी बनाएगा। आजकल लेमिनेट्स कई रंगों, प्रकारों और रूपों में उपलब्ध हैं और इन्हें वार्डरोब, दरवाजे, सीलिंग आदि में प्रयोग किया जा सकता है। ये ज्यादा महंगे नहीं होते और रखरखाव भी आसान होता है। वीनीर भी एक बेहतर विकल्प हो सकता है लेकिन इसका प्रयोग संतुलित होना चाहिए। बेडरूम व्यवस्थित किंतु क्रियाशील लगना चाहिए।

अगर फर्नीचर में मुख्य रूप से गहरे रंगों का इस्तेमाल कर रहे हैं तो कंट्रास्ट के रूप में दीवारों और पर्दों में हल्के रंगों का प्रयोग करना चाहिए। बेडरूम में पर्याप्त रोशनी होना चाहिए। वॉल माउंटिंग लाइट लगाना उचित होता है। साइड टेबल पर लेम्प लगाना ज्यादा बेहतर है। गहरे रंगों में लेमिनेटेड फ्लोरिंग कक्ष को वार्म फीलिंग देती है।


(लेखक ख्यात डिजाइनर हैं।)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान ...

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान भी जरूर जान लें
लिप बाम सौंदर्य प्रसाधन में आज एक ऐसा प्रोडक्ट बन चुका है, जिसके बिना किसी लड़की व महिला ...

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना
पति-पत्नी के बीच घर के दैनिक कार्य को लेकर, नोकझोंक का सामना रोजाना होता हैं। पति का ...

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव
मिर्च-मसाले वाले पदार्थ अधिक सेवन करने से एसिडिटी होती है। इसके अतिरिक्त कई कारण हैं ...

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा
सबसे पहले साबूदाने को 2-3 बार धोकर पानी में 1-2 घंटे के लिए भिगो कर रख दें।

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें
हर बार आप सैलून में ही जाकर अपने बालों को कलर करवाएं, यह संभव नहीं है। बेशक कई लोग हमेशा ...

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री
पिछले सप्ताह विश्व प्रसिद्ध अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके बच्चे को बिगड़ने से कोई नहीं रोक सकता!
पैरेंट्स की कुछ ऐसी आदतें होती हैं, जो वे बच्चों को सुधारने, कुछ सिखाने-पढ़ाने और नियंत्रण ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो यह एस्ट्रो टिप्स आपके लिए है
क्या आप भी संकोची हैं, अगर हां तो यह आलेख आपके लिए है...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों ...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों को नजरअंदाज करें, वरना हो सकती है बड़ी परेशानी
ये बीमारी भी ऐसे ही सामने नहीं आती। इसके भी लक्षण हैं जो आप और हम जैसे लोग अनदेखा करते ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु नहीं हो...ग्रहण के कारण इस समय कर लें पूजन
वे लोग जिन्हें गुरु उपलब्ध नहीं है और साधना करना चाहते हैं उनका प्रतिशत समाज में अधिक है। ...