राहु काल : 7 दिनों में कब और किस समय होता है राहु काल, यह जानकारी आपको जरूर होनी चाहिए

भारतीय ज्योतिष में नौ ग्रह गिने जाते हैं, सूर्य, चंद्रमा, बुध, शुक्र, मंगल, गुरु, शनि, राहु और केतु। जिसमें राहु, राक्षसी सांप का मुखिया है जो हिन्दू शास्त्रों के अनुसार सूर्य या चंद्रमा को निगलते हुए ग्रहण को उत्पन्न करता है। राहु तमस असुर है। राहु का कोई सिर नहीं है और जो आठ काले घोड़ों द्वारा खींचे जाने वाले रथ पर सवार हैं।

ज्योतिष में को अशुभ माना जाता है। अत: इस काल में शुभ कार्य नहीं कि जाते है। यहां आपके लिए प्रस्तुत है सप्ताह के दिनों पर आधारित राहुकाल का समय, जिसके देखकर आप अपना दैनिक कार्य कर सकते हैं।

यहां आपके लिए प्रस्त‍ुत हैं वार के अनुसार राहु काल का समय

रविवार : सायं 4:30 से 6:00 बजे तक।

: प्रात:काल 7:30 से 9:00 बजे तक।

मंगलवार : अपराह्न 3:00 से 4:30 बजे तक।

बुधवार : दोपहर 12:00 से 1:30 बजे तक।

गुरुवार : दोपहर 1:30 से 3:00 बजे तक।

शुक्रवार : प्रात:10:30 से दोपहर 12:00 तक।

शनिवार : प्रात: 9:00 से 10:30 बजे तक।

- आचार्य डॉ. संजय


 

और भी पढ़ें :