जुलाई 2017 : कैसा होगा देश-विदेश के लिए...


 
 
* कैसा रहेगा जुलाई 2017, जानिए ज्योतिष की नजर से...
 
जुलाई प्रथम सप्ताह विश्व के लिए शांति एवं सुख वाला रहेगा। अमेरिका, स्विट्जरलैंड,  भारत, अफगानिस्तान, दक्षिण अफ्रीका व रूस जैसे बड़े देशों में शांति व युद्धस्तर पर आतंक  के खिलाफ कार्य होंगे। पाकिस्तान, चीन, ईरान, इराक में आंतरिक झगड़ों पर अशांति रहेगी। महिलाएं कष्ट में रहेंगी। 
 
4 जुलाई को बुध के पुष्य में आने से सोने-चांदी में मंदी, रुई में उतार-चढ़ाव रहेगा, परंतु ऊनी वस्त्रों में तेजी आएगी। 6 जुलाई से सूर्य के पुनर्वसु नक्षत्र में प्रवेश करने से  सोना-चांदी, कपास, गुड़, शकर, अलसी, जुवार व बाजरा में तेजी आएगी। नारियल, गूगल में भाव उछाल पर आएंगे। 
ALSO READ: : क्या लाया है यह माह 12 राशियों के लिए...  
8 जुलाई को शुक्र रोहिणी में रहेगा जिसके परिभ्रमणस्वरूप उपरोक्त सभी वस्तुओं में मंदी रहेगी। 11 जुलाई को मंगल रहने से रुई, कपास व सरसों तेल में मंदी रहेगी। चांदी में  उतार-चढ़ाव रहेगा एवं गुड़-शकर में तेजी रहेगी। 
 
16 जुलाई को मंगल के पुष्य व सूर्य के कर्क में परिभ्रमण से सोना-चांदी में उतार-चढ़ाव व  नारियल, कपास, तेल व मूंगफली में तेजी रहेगी। 
 
को बुध के मघा नक्षत्र में प्रवेश करने से कपूर, शकर व चांदी में उछाल रहेगा। 24 जुलाई से सोना-चांदी व रुई में घट-बढ़ रहेगी। को शुक्र के मिथुन में आने से रुई, कपास, सूती वस्त्र, तिल, तेल, सरसों, अरहर, जुवार में ज्यादा मंदी और अलसी, घी में भी मंदी रहेगी। गेहूं, चना, जौ व चावल में तेजी आएगी। 
पहाड़ी इलाकों में अच्छी वर्षा होगी। मैदानी भागों में सुबह-शाम वर्षा होगी व दोपहर में तापमान तेज रहेगा। उत्तराखंड,  झारखंड व कश्मीर क्षेत्रों में जलप्लावन से जन-धन की हानि हो सकती है।
 
 गुजरात, हरियाणा, राजस्थान व मध्यप्रदेश में वर्षा अच्छी रहेगी। कहीं-कहीं कम वर्षा से प्रजा परेशान रहेगी। दक्षिण भारत में जुलाई प्रथम माह में कम वर्षा होगी, परंतु जुलाई अंतिम सप्ताह में अच्छी वर्षा होगी। 


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

राशिफल

क्या अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के साथ ही बर्फ से निर्मित होते ...

क्या अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के साथ ही बर्फ से निर्मित होते हैं पार्वती और गणेश?
अमरनाथ गुफा में शिवलिंग का निर्मित होना समझ में आता है, लेकिन इस पवित्र गुफा में एक गणेश ...

इन पौराणिक कथाओं से जानिए कि क्यों प्रिय है शिव को श्रावण ...

इन पौराणिक कथाओं से जानिए कि क्यों प्रिय है शिव को श्रावण मास,अभिषेक और बेलपत्र
पौराणिक कथा है कि जब सनत कुमारों ने महादेव से उन्हें श्रावण महीना प्रिय होने का कारण पूछा ...

कौन है जापानी लकी कैट, क्यों करती है यह हमारी मदद... जानें ...

कौन है जापानी लकी कैट, क्यों करती है यह हमारी मदद... जानें पूरी कहानी
लकी कैट जापान से आई है। घर में इस बिल्ली की प्रतिमा रखने मात्र से ही व्यक्ति की सारी ...

श्रावण मास में शिव-पूजा से पहले पढ़ें यह नियम, वरना नहीं ...

श्रावण मास में शिव-पूजा से पहले पढ़ें यह नियम, वरना नहीं मिलेगा पूरा फल, मंत्र की गल‍ती कर सकती है बर्बाद
श्रावण भगवान शिव का प्रिय महीना है, इन दिनों चारों ओर से मंत्र जाप की ध्वनि सुनाई देगी, ...

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य
गीता में लिखा गया है कि ये संसार उल्टा पेड़ है। इसकी जड़ें ऊपर और शाखाएं नीचे हैं। यदि कुछ ...

19 जुलाई 2018 के शुभ मुहूर्त

19 जुलाई 2018 के शुभ मुहूर्त
शुभ विक्रम संवत- 2075, अयन- दक्षिणायन, मास- आषाढ़, पक्ष- शुक्ल, हिजरी सन्- 1439, मु. मास- ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो यह एस्ट्रो टिप्स आपके लिए है
क्या आप भी संकोची हैं, अगर हां तो यह आलेख आपके लिए है...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु नहीं हो...ग्रहण के कारण इस समय कर लें पूजन
वे लोग जिन्हें गुरु उपलब्ध नहीं है और साधना करना चाहते हैं उनका प्रतिशत समाज में अधिक है। ...

23 जुलाई को है देवशयनी एकादशी व्रत, चातुर्मास होंगे आरंभ, ...

23 जुलाई को है देवशयनी एकादशी व्रत, चातुर्मास होंगे आरंभ, मंगल कार्य निषेध
हरिशयनी एकादशी, देवशयनी एकादशी, पद्मा एकादशी, पद्मनाभा एकादशी नाम से पुकारी जाने वाली ...

क्यों सुनना चाहती थीं पार्वती अमरनाथ की अमरकथा, पढ़ें रोचक ...

क्यों सुनना चाहती थीं पार्वती अमरनाथ की अमरकथा, पढ़ें रोचक जानकारी...
एक बार पार्वतीजी से ने शंकरजी से पूछा, ‘मुझे इस बात का बड़ा आश्चर्य है कि आपके गले में ...