क्रिकेट 2007 : निजी रिकॉर्ड पर एक नजर

शराफत खान|
वर्ष 2007 में क्रिकेट का बोलबाला रहा। एक के बाद सिरीज की वजह से टीमें ज्यादातर व्यस्त ही रहीं। इंग्लैंड ने इस कैलेंडर वर्ष में सबसे ज्यादा 11 टेस्ट खेले। रिकी पोंटिंग एक बार फिर वनडे और टेस्ट रैंकिंग में पहले नंबर पर विराजमान हैं। हालाँकि ऑस्ट्रेलिया ने इस साल केवल दो ही टेस्ट खेले लेकिन उसका जलवा अब भी टेस्ट रैंकिंग में कायम है। आइए जानते हैं कि साल 2007 व्यक्तिगत रिकॉर्ड के हिसाब से कैसा रहा।

टेस्ट क्रिकेट- जैक्स कैलिस ने टेस्ट क्रिकेट में इस साल सर्वाधिक 1125 रन बनाए। इसके अलावा वे ऑलराउंडर नंबर वन भी रहे। इस साल केवल तीन ही ऐसे बल्लेबाज रहे जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 1000 रन बनाए। कैलिस के अलावा भारत के सौरव गांगुली (9 टेस्ट में 1023 रन) और इंग्लैंड के केविन पीटरसन (11 टेस्ट में 1007 रन) का नाम इस सूची में है।
इस साल कैलिस और माहेला जयवर्द्धने ने पाँच-पाँच शतक जमाए। कुमार संगकारा और केविन पीटरसन ने चार शतक लगाए। औसत के हिसाब से वर्ष 2007 में पाँच बल्लेबाज ऐसे रहे जिनका औसत सौ से ज्यादा रहा। इनमें शिवनारायण चंद्रपाल (148. 66), कुमार संगकारा (138.28), माइकल हसी (112.00), फिल जैक्स (106.00) और माइकल क्लार्क (113.50) के नाम हैं।

वर्ष 2007 में व्यक्तिगत स्कोर की बात करें तो यह रिकॉर्ड सौरव गांगुली के नाम रहा। गांगुली की बेंगलुरू टेस्ट में पाकिस्तान के खिलाफ 239 रनों की पारी इस वर्ष सर्वाधिक व्यक्तिगत योग रहा। इस साल कुल पाँच दोहरे शतक लगाए गए। गांगुली (239) के अलावा वसीम जाफर (202), केविन पीटरसन (226), माहेला जयवर्द्धने (213*) और कुमार संगकारा (222*) ऐसे बल्लेबाज रहे जिन्होंने इस साल दोहरा शतक लगाया।
विकेट लेने में इस साल मुथैया मुरलीधरन शीर्ष पर रहे। मुरली ने इस साल 49 विकेट चटकाए। अनिल कुंबले इस साल 42 विकेट लेकर दूसरे स्थान पर रहे। मोंटी पनेसर ने भी 41 विकेट लेकर तीसरा स्थान सुरक्षित किया। गौर करने वाली बात यह है कि इस साल सर्वाधिक विकेट लेने वाले पहले पाँच गेंदबाज स्पिनर हैं।

वनडे क्रिकेट- वनडे क्रिकेट में इस साल एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया का दबदबा रहा। मैथ्यू हैडन ने इस साल 30 पारियों में सर्वाधिक 1601 रन बनाए। रन बनाने के हिसाब से सचिन तेंडुलकर दूसरे नंबर पर रहे। सचिन ने 32 पारियों में 1425 रन बनाए। रिकी पोंटिंग ने केवल 24 पारियों में 1424 रन बनाए। हैडन और पोंटिंग ने इस साल पाँच- पाँच शतक जड़े। वहीं शिवनारायण चंद्रपाल चार शतक जमाकर इस मामले में दूसरे स्थान पर रहे। व्यक्तिगत स्कोर में बाजी हैडन के नाम रही। हैडन ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 181 रनों की पारी खेली थी जो इस साल का सर्वाधिक निजी योग रहा। इस श्रेणी में दूसरे स्थान पर इमरान नजीर रहे। नजीर ने जिम्बाब्वे के खिलाफ 160 रनों की पारी खेली थी।
वन डे क्रिकेट में औसत के हिसाब एक बार फिर पोंटिंग ने बाजी मारी। पोंटिंग ने इस साल 79.11 की औसत से रन बनाए। इस श्रेणी में दूसरा नाम शिवनारायण चंद्रपाल का रहा। चंद्रपाल का औसत इस साल 76.00 रहा। सबसे ज्यादा अर्द्धशतक के मामले में सचिन तेंडुलकर 13 अर्द्धशतक लगाकर शीर्ष पर रहे। ग्रीम स्मिथ और सौरव गांगुली 12-12 अर्द्धशतक लगाकर दूसरे स्थान पर रहे।
साल 2007 में वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों में पहला नाम जहीर खान का है। जहीर ने 33 मैचों में 40 विकेट चटकाए हैं। ग्लैन मैग्राथ और जैम्स एंडरसन ने क्रमश: 20 और 28 मैचों में 39-39 विकेट हासिल किए हैं। इस साल दिलहारा फर्नान्डो ने भी 23 मैचों में 38 विकेट लिए।

नोट- आँकड़े 26 दिसंबर को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जाने वाले टेस्ट से पहले के हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

दुर्घटनाएं अमावस्या और पूर्णिमा पर ही क्यों होती है? आइए ...

दुर्घटनाएं अमावस्या और पूर्णिमा पर ही क्यों होती है? आइए जानते हैं यह रहस्य-
पूर्णिमा के दिन मोहक दिखने वाला और अमावस्या पर रात में छुप जाने वाला चांद अनिष्टकारी होता ...

क्या आपका बच्चा भी अंगूठा चूसता है? तो हो जाएं सावधान, जान ...

क्या आपका बच्चा भी अंगूठा चूसता है? तो हो जाएं सावधान, जान लें नुकसान
शायद ऐसा कोई व्यक्ति नहीं होगा, जिसने किसी बच्चे को अंगूठा चूसते हुए कभी न देखा हो। अक्सर ...

यही है वह मौसम जब शरीर का बदलता है तापमान, रहें सावधान, ...

यही है वह मौसम जब शरीर का बदलता है तापमान, रहें सावधान, जानें वजह और बचाव के उपाय
मौसम आ गया है कि आपको चाहे जब लगेगा हल्का बुखार। तो क्या घबराने की कोई बात है? जी नहीं, ...

प्रेशर कुकर में नहीं कड़ाही में पकाएं खाना, जानिए क्यों...

प्रेशर कुकर में नहीं कड़ाही में पकाएं खाना, जानिए क्यों...
अगर आप से पूछा जाए कि प्रेशर कुकर में या कड़ाही खाना बनाना बेहतर है तो आप तुरंत प्रेशर ...

मलाईदार नारियल क्रश, सेहत के यह 8 फायदे पढ़कर रह जाएंगे दंग

मलाईदार नारियल क्रश, सेहत के यह 8 फायदे पढ़कर रह जाएंगे दंग
आजकल मार्केट में नारियल पानी से ज्यादा नारियल क्रश को पसंद किया जा रहा है। इसकी बड़ी वजह ...

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव
मिर्च-मसाले वाले पदार्थ अधिक सेवन करने से एसिडिटी होती है। इसके अतिरिक्त कई कारण हैं ...

देवताओं की रात्रि प्रारंभ, क्यों नहीं होते शुभ कार्य कर्क ...

देवताओं की रात्रि प्रारंभ, क्यों नहीं होते शुभ कार्य कर्क संक्रांति में...
कर्क संक्रांति में नकारात्मक शक्तियां प्रभावी होती हैं और अच्छी और शुभ शक्तियां क्षीण हो ...

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान ...

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान भी जरूर जान लें
लिप बाम सौंदर्य प्रसाधन में आज एक ऐसा प्रोडक्ट बन चुका है, जिसके बिना किसी लड़की व महिला ...

सूर्य कर्क संक्रांति आरंभ, क्या सच में सोने चले जाएंगे सारे ...

सूर्य कर्क संक्रांति आरंभ, क्या सच में सोने चले जाएंगे सारे देवता... पढ़ें पौराणिक महत्व और 11 खास बातें
सूर्यदेव ने कर्क राशि में प्रवेश कर लिया है। सूर्य के कर्क में प्रवेश करने के कारण ही इसे ...

यदि आप निरोग रहना चाहते हैं, तो पढ़ें यह चमत्कारिक मंत्र

यदि आप निरोग रहना चाहते हैं, तो पढ़ें यह चमत्कारिक मंत्र
भागदौड़ भरी जिंदगी में आजकल सभी परेशान है, कोई पैसे को लेकर तो कोई सेहत को लेकर। यदि आप ...