Fact Check: क्या खेती में यूरिया के उपयोग पर लगने वाला है बैन? जानिए सच

Last Updated: गुरुवार, 13 अगस्त 2020 (12:19 IST)
सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार खेती में यूरिया के उपयोग पर बैन करने वाली है। इस दावे के साथ अखबार की एक कटिंग भी शेयर की जा रही है। अखबार में छपी खबर का शीर्षक है- ‘खेती में अब यूरिया का उपयोग बंद करेगी सरकार’।

क्या है वायरल-


वायरल अखबार की कटिंग में लिखा गया है कि यूरिया के खतरनाक परिणामों को देखते हुए केंद्र सरकार खेती में यूरिया के उपयोग को बंद करने की तैयारी कर रही है। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि केंद्र ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर यूरिया के उपयोग को कम करने के निर्देश दिए हैं।



क्या है सच-

वायरल खबर की पड़ताल शुरू करते हुए हमने इंटरनेट पर सर्च किया। लेकिन हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली जिससे पुष्टि हो सके कि यूरिया के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने जा रही है।


भारत सरकार की प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो ने भी ट्वीट करते हुए खेती में यूरिया बैन होने वाले दावे को फर्जी बताया है। पीआईबी ट्विटर हैंडल से लिखा गया है- ‘यह दावा फर्जी है! भारत सरकार ने खेती में यूरिया के उपयोग को बंद करने के संदर्भ में कोई निर्णय नहीं लिया है।’



वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत सरकार देश में यूरिया का उत्पादन बढ़ाने जा रही है जिससे चीन पर निर्भरता कम हो सके। केंद्र सरकार यूरिया के पांच बंद पड़े प्लांट्स को 37,971 करोड़ रुपए की लागत से दोबारा शुरू करने जा रही है।


वेबदुनिया ने अपनी पड़ताल में पाया कि खेती में यूरिया के उपयोग पर बैन लगाए जाने वाली वायरल खबर फर्जी है।





और भी पढ़ें :