सुनो द्रौपदी शस्त्र उठा लो, अब गोविंद न आएंगे : प्रियंका गांधी

पुनः संशोधित बुधवार, 17 नवंबर 2021 (21:46 IST)
(उत्तर प्रदेश)। महासचिव और पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को महिलाओं से अपने इंसाफ की लड़ाई खुद लड़ने के लिए तैयार होने का आह्वान करते हुए एक कविता लाइन दोहराई- 'सुनो द्रौपदी शस्त्र उठा लो, अब गोविंद न आएंगे।'

प्रियंका ने चित्रकूट में पार्टी द्वारा आयोजित संवाद 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' के दौरान महिलाओं से बातचीत में उनसे अपने प्रति होने वाले अन्याय के खिलाफ उठ खड़े होने का आह्वान करते हुए कवि पुष्यमित्र उपाध्याय की कविता 'सुनो द्रौपदी शस्त्र उठा लो, अब गोविंद न आएंगे' का हवाला दिया। उन्होंने कहा- सुनो द्रौपदी शस्त्र उठा लो, अब गोविंद न आएंगे। कब तक आस लगाओगी तुम बिके हुए अखबारों से, कैसी रक्षा मांग रही हो दु:शासन दरबारों से।'
उन्होंने देश को धर्म और जाति की राजनीति से निकालकर विकास की सियासत की ओर ले जाने के लिए महिलाओं के आगे आने की जरूरत पर जोर देते हुए कहा, 'अगर देश को जातिवाद और धर्म की राजनीति से निकालकर विकास की राजनीति की ओर ले जाना है तो महिलाओं को आगे बढ़ना पड़ेगा।'

आगामी विधानसभा चुनाव में महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देने के कांग्रेस के फैसले का जिक्र करते हुए प्रियंका ने इसे महज एक शुरुआत करार दिया और कहा कि एक महिला ही दूसरी महिला का दर्द समझ सकती है। जब एक महिला विधायक बनकर सदन में जाएगी तो वह महिलाओं के लिए उचित नीतियां बनवा सकेगी।
कांग्रेस महासचिव ने कहा, 'राजनीति में करुणा भाव लाने, हिंसा और क्रूरता को खत्म करने के लिए आप अपनी सभी बहनों को समझाइए कि इस बार महिला प्रत्याशियों की मदद करना है, ताकि हम राजनीति, समाज और देश को बदलें।

उन्होंने कहा कि महिलाएं आंख बंद करके महिला प्रत्याशियों को वोट दें, क्योंकि वे ही महिलाओं के हक की लड़ाई लड़ेंगी। राजनीति में आपकी भागीदारी अब सुनिश्चित है। कांग्रेस ने महिलाओं को भागीदारी दिलाने की जो पहल की है, उसका अंत नहीं हो सकता। आने वाले समय में दूसरी पार्टियों को भी मजबूरन महिलाओं को भागीदारी देनी पड़ेगी।
कांग्रेस महासचिव ने शाहजहांपुर में गत नौ नवंबर को दौरे पर आये मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अपनी समस्याएं बताने की कोशिश कर रही आशा स्वास्थ्यकर्मियों के खिलाफ पुलिस द्वारा कथित बल प्रयोग का जिक्र करते हुए कहा, 'जब आपका लगातार शोषण हो रहा है, तब आप आपको पीटने वालों से हक मांगेंगे तो वो कभी नहीं मिलेगा। आपको अपने हक के लिये लड़ना पड़ेगा। जो सरकार आपके लिये कुछ नहीं कर रही है तो उसे आगे क्यों बढ़ाना है।'
प्रियंका ने कांग्रेस के चुनावी वादे गिनाते हुए कहा कि पार्टी के सत्ता में आने पर 20 लाख नये रोजगार दिये जाएंगे, जिनमें 40 प्रतिशत हिस्सेदारी महिलाओं की होगी। 10 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त होगा। लड़कियों को पढ़ने के लिये स्मार्टफोन और इलेक्ट्रिक स्कूटी दी जाएगी। इससे पहले प्रियंका ने चित्रकूट के ऐतिहासिक भगवान मतगजेन्द्र शिव मंदिर में जलाभिषेक एवं पूजा—अर्चना की।



और भी पढ़ें :