पंजशीर में पाकिस्तान को महंगी पड़ सकती है तालिबान की मदद, अमेरिकी सांसद ने की यह मांग...

पुनः संशोधित गुरुवार, 9 सितम्बर 2021 (08:50 IST)
वाशिंगटन। पंजशीर में हमले में की मदद करना को खासा महंगा पड़ सकता है। अमेरिका के एक सांसद ने अफगानिस्तान के पंजशीर में तालिबान के हमले में मदद करने के लिए पाकिस्तान पर लगाने की मांग की है।
ALSO READ:

महिलाओं के प्रदर्शन से घबराया तालिबान, सरकार में शामिल करने का वादा...
इलिनोइस के सांसद एडम किन्ज़िंगर ने कहा कि अगर पुष्टि हो जाती है तो हमें न सिर्फ सभी सहायताएं बंद कर देनी चाहिए, बल्कि हमें प्रतिबंध भी लगाने चाहिए। पाकिस्तान अब हमें दिखा रहा है कि उसने वर्षों हमसे झूठ बोला, उन्होंने तालिबान को बनाया और उन्हें संरक्षण भी दिया।
सांसद का यह बयान ‘फॉक्स न्यूज’ की उस खबर के बाद आया, जिसमें कहा गया है कि पाकिस्तानी सेना पंजशीर में तालिबान के हमलों में सहयोग कर रही है, जिनमें पाकिस्तानी विशेष बलों के 27 विमानों से हमले और उसके द्वारा किए ड्रोन हमले शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि अफगानिस्तान में तालिबान सरकार की घोषणा से पहले पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद काबुल की यात्रा की थी और मुल्ला बरादर से मुलाकात भी की थी। मीडिया खबरों के अनुसार, हक्कानी समूह के सिराजुद्दिन हक्कानी को भी अफगानिस्तान का गृहमंत्री बनाने के पीछे आईएसआई का ही हाथ है।



और भी पढ़ें :