त्रिपुरा के CM बिप्लब देब का इस्तीफा, विवादित बयानों के लिए रहे हैं मशहूर

पुनः संशोधित शनिवार, 14 मई 2022 (16:36 IST)
अगरतला। त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री बिप्लब देब ने शनिवार को मुख्‍यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। आज शाम 5 बजे विधायक दल की बैठक में नए मुख्‍यमंत्री का चयन किया जाएगा। देब ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। नए सीएम के लिए माणिक साहा का नाम चर्चा में है। साहा वर्तमान में त्रिपुरा भाजपा के अध्यक्ष हैं।


इस बीच केन्द्रीय मंत्री और भाजपा महासचिव विनोद तावड़े पर्यवेक्षक के रूप में अगरतला पहुंच गए हैं। ये दोनों नेता राज्य में नए मुख्‍यमंत्री के लिए विधायकों से चर्चा करेंगे। शुक्रवार को ही बिप्लब देब दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह से मिले थे।
माना जा रहा है कि एंटीइन्कमबेंसी को खत्म करने के लिए देब से इस्तीफा लिया गया है।‍ बिप्लब अपने विवादियों के कारण हमेशा सुर्खियों में रहे हैं। वे महाभारत काल में इंटरनेट और सैटेलाइट होने का दावा कर सुर्खियों में आए थे। उन्होंने कहा था कि यह वह देश है, जिसमें महाभारत के दौरान संजय ने हस्तिनापुर में बैठकर धृतराष्ट्र को बताया था कि कुरुक्षेत्र के युद्ध में क्या हो रहा है।

देब ने एक बार युवाओं को नौकरियों के बदले पान की दुकान खोलने की सलाह दे डाली। उन्होंने कहा कि, युवा कई सालों तक राजनीतिक दलों के पीछे सरकारी नौकरी के लिए पड़े रहते हैं. वह अपने जीवन का महत्वपूर्ण समय यहां-वहां दौड़-भाग कर सरकारी नौकरी की तलाश में बर्बाद करते हैं। मगर वही युवा सरकारी नौकरी तलाश करने के लिए राजनीतिक पार्टियों के पीछे भागने की बजाय पान की दुकान लगा लेते तो उनके बैंक खाते में अब तक 5 लाख रुपए जमा होते।



और भी पढ़ें :