Maharashtra Political Crisis : एकनाथ शिंदे के मनाने में नाकाम रहे उद्धव, जल्द करेंगे शरद पवार से मुलाकात (LIVE)

Last Updated: मंगलवार, 21 जून 2022 (21:08 IST)
हमें फॉलो करें
महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना के कुछ विधायकों की बगावत के बाद उद्धव ठाकरे सरकार पर संकट आ गया है। दूसरी ओर, ने कहा कि तीसरी महाराष्ट्र सरकार को गिराने की साजिश की जा रही है।
ठक में उद्धव ठाकरे ने कहा कि अघाड़ी सरकार को कोई खतरा नहीं। आइए जानते हैं इसी घटनाक्रम से जुड़ा अपडेट...

महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जल्द ही एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात करेंगे। उद्धव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे से फोन पर भी बात की है। वे उन्हें मनाने में नाकाम रहे हैं।

-शिवसेना के बागी मंत्री एकनाथ शिंदे ने शिवसेना के समक्ष बड़ी शर्त रख दी है। उन्होंने कहा कि यदि शिवसेना भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाए तो उनकी वापसी हो सकती है।

महाराष्ट्र के राजनीतिक संकट पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि एकनाथ शिंदे
से बात हुई है और वे हमारे पुराने साथी हैं। हमारा उनके साथ अच्छा रिश्ता रहा है। हमने भाजपा का साथ क्यों छोड़ा वह सबको पता है और एकनाथ शिंदे भी इसके गवाह हैं।

अजय चौधरी विधायक दल के नेता : शिवसेना नेताओं ने महाराष्ट्र विधानसभा के उपाध्यक्ष नरहरि जिरवाल से मुलाकात की और उन्हें एक पत्र सौंपा। इसमें एकनाथ शिंदे को विधायक दल के नेता के पद से हटाने और उनकी जगह अजय चौधरी को शिवसेना विधायक दल का नेता बनाने का अनुरोध किया गया है।

खबरों के मुताबिक नार्वेकर और फाटक ने सूरत में शिंदे से मुलाकात की है। हालांकि बातचीत का ब्योरा सामने नहीं आया है।

बंटाढार करेंगे कमलनाथ : महाराष्ट्र में उपजे सियासी संकट के बीच मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को मुंबई भेजे जाने की खबरों को लेकर भाजपा मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कमलनाथ पर निशाना साधा है। शर्मा ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र में उलटफेर के बीच कमलनाथ को वहां ऑब्जर्वर बनाकर भेजे जाने की खबरें देखीं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश का तो कोई विधायक कमलनाथ की सुनता नहीं है, विधायक भाग जाते हैं। शर्मा ने कटाक्ष किया कि उन्हें लगता है कमलनाथ महाराष्ट्र के अंदर भी 'बंटाढार' करके ही लौटेंगे।

- एकनाथ शिंदे को मनाने सूरत गए शिवसेना नेता रविन्द्र पाठक और मिलिंद नारवेकर को पुलिस ने होटल में जाने से रोका।
-मंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं एकनाथ शिंदे।
-महाराष्ट्र की सियासी उठापटक पर बैठक कर सकते हैं गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‍डा। बैठक में महाराष्ट्र के पूर्व डिप्टी सीएम देवेन्द्र फडणवीस और शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे भी शामिल हो सकते हैं।
-डिप्टी सीएम अजित पवार आज शाम मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे से करेंगे मुलाकात।
-मंत्री एकनाथ शिंदे पर पर शिवसेना की बड़ी कार्रवाई। शिवसेना ने शिंदे को विधायक दल के नेता पद से हटाया।
-एकनाथ शिंदे ने कहा कि बाला साहेब के पक्के शिवसैनिक हैं। उन्होंने ही हमें हिन्दुत्व सिखाया है। सत्ता के लिए कभी धोखा नहीं दिया है और न ही देंगे।

-शरद पवार ने कहा- यह शिवसेना का आंतरिक मामला है, वे स्थिति के आकलन के बाद हमें सूचित करेंगे।
-महाराष्ट्र में सरकार गिरने की स्थिति में विकल्पों को लेकर शरद पवार ने कहा कि भाजपा के साथ जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता।
-एकनाथ शिंदे से कोई बात होने के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में पवार ने कहा कि उन्होंने किसी से बात नहीं की है ।
-महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव के परिणामों पर शरद पवार ने कहा कि ऐसे चुनावों में क्रॉस वोटिंग होती है, इसमें कोई नई बात नहीं है, हम इसका हल निकालेंगे।
-महाराष्ट्र की शिवसेना नीत अघाड़ी सरकार में बगावत। मंत्री एकनाथ शिंदे विधायकों को लेकर सूरत पहुंचे।
-मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के घर बैठक में सिर्फ 18 विधायक ही पहुंचे।
-बैठक में उद्धव ठाकरे ने कहा कि अघाड़ी सरकार को कोई खतरा नहीं।
-शरद पवार के घर भी हुई बैठक। पवार ने बैठक के बाद कहा कि महाराष्ट्र सरकार को तीसरी बार गिराने की साजिश रची जा रही है।
-भाजपा के साथ 149 विधायक। बहुमत के लिए वर्तमान में 144 विधायकों की जरूरत। 288 सदस्यीय विधानसभा में फिलहाल एक सीट खाली है।
-भाजपा के साथ शिवसेना के 29 बागी। निर्दलीय और एमएनएस मिलाकर आंकड़ा 149 तक पहुंचा।
-भाजपा के साथ निर्दलीय विधायक होने का दावा।
-पूर्व मुख्‍यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस दिल्ली के लिए उड़े।
-दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‍डा से मुलाकात कर महाराष्ट्र की स्थिति पर चर्चा की।

-शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि एकनाथ शिंदे मुंबई में नहीं हैं, लेकिन उनके साथ संपर्क हो गया है। हालांकि, राउत ने शिंदे के साथ जाने वाले विधायकों की संख्या के बारे में विस्तार से नहीं बताया।
-एक दिन पहले ही यानी सोमवार को सत्तारूढ़ महा विकास आघाड़ी गठबंधन को महाराष्ट्र विधान परिषद चुनावों में हार से झटका लगा था। शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस एमवीए के घटक हैं। इससे पहले, राज्यसभा के चुनाव में भी सत्तारूढ़ गठबंधन को झटका लग चुका है।
-भाजपा की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने ताजा राजनीतिक घटनाक्रमों के संबंध में मुंबई में पत्रकारों से चर्चा में कहा कि पार्टी इन घटनाओं पर नजर बनाए हुए है।
-महाराष्ट्र से ताल्लुक रखने वाले केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने एक ट्वीट में कहा, ‘बहुत बढ़िया एकनाथ जी। आपने उचित समय पर उचित फैसला लिया है। नहीं तो आपका भी आनंद दीघे जैसा हश्र हो सकता था।
-कांग्रेस की राज्य इकाई के एक मंत्री ने दावा किया कि शिवसेना में लगभग एक सप्ताह से उथल-पुथल चल रही है। शिंदे उपमुख्यमंत्री बनना चाहते हैं।



और भी पढ़ें :