राजस्थान में कई जगह बाढ़ के हालात, गहलोत ने कहा जरूरत पड़ने पर सेना की मदद ली जाएगी

Ashok Gehlot
Last Updated: बुधवार, 4 अगस्त 2021 (12:53 IST)
प्रमुख बिंदु
  • राजस्थान के कई इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति
  • गहलोत बोले कि सेना की लेंगे
  • चंबल नदी में खतरे का निशान के ऊपर
जयपुर। राजस्थान के हाडौती क्षेत्र में लगातार बारिश से कई इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है, यहां 100 से अधिक गांवों से सड़क सम्पर्क टूट गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोटा, बारां, बूंदी एवं झालावाड़ के कुछ इलाकों में भारी बारिश से बाढ़ के हालात बन गए हैं। प्रशासन को राहत एवं बचाव कार्यों के संबंध में निर्देश दिए हैं। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) एवं सिविल डिफेंस के दल मदद कार्य कर रहे हैं। जरूरत पड़ने पर सेना की मदद ली जाएगी।
ALSO READ:

ग्वालियर-चंबल संभाग के 7 जिले बाढ़ में डूबे,दतिया में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा प्रभावित इलाकों में पहुंचे

उन्होंने बुधवार को ट्वीट किया कि धौलपुर में भी चंबल नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है एवं भरतपुर में अधिक बारिश के कारण कुछ इलाकों में बाढ़ के हालात बन सकते हैं। भरतपुर एवं धौलपुर में भी प्रशासन को अलर्ट पर रखा गया है। आमजन से अपील है कि सावधानी बरतें एवं परेशानी होने पर प्रशासन को तुरंत सूचित करें।
मौसम विभाग के अनुसार पिछले कुछ दिनों में राज्य के पूर्वी इलाकों में भारी बारिश हुई है। बारां और उसके आसपास के क्षेत्रों में भारी से अति भारी बारिश के कारण कई गांव द्वीप जैसे बन गए है और उनका सड़क सम्पर्क कट गया है। एसडीआरएफ कमांडेंट पंकज चौधरी ने कहा कि बल के दलों को उन इलाकों में तैनात किया गया है जहां बाढ़ जैसी स्थिति बन रही है। दलों को खासतौर पर धौलपुर, सवाईमाधोपुर, करौली में तैनात किया गया है। धौलपुर में चंबल नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।


चौधरी ने बताया कि चंबल नदी में खतरे का निशान 129.79 मीटर पर है और खतरे का स्तर 130.79 मीटर है जबकि बुधवार सुबह नदी का गेज 143 मीटर था और जल स्तर बढ रहा हैं । वहीं पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के पूर्वी इलाकों में व्यापक बारिश का दौर जारी है। बारां, सवाईमाधोपुर, कोटा और बूंदी के कई इलाकों में भारी बारिश और अन्य कई इलाकों में भारी से अति भारी बारिश दर्ज की गई। विभाग के अनुसार सबसे अधिक बारिश कोटा के खातोली में 280 मिलीमीटर, बूंदी में 258 मिलीमीटर दर्ज की गई। विभाग ने आगामी 2 दिन पूर्वी राजस्थान के कुछ इलाकों में भारी से अति भारी बारिश की संभावना जताई है।(भाषा)



और भी पढ़ें :