0

Baisakhi 2020 : शौर्य, त्याग और लोक कल्याण का महान पर्व बैसाखी

शुक्रवार,अप्रैल 10, 2020
Vaisakhi 2020
0
1
22 मार्च 2020 को ऊर्जा और पराक्रम का प्रतीक मंगल ग्रह मकर राशि में आ गया है...मंगल के गोचर से 4 राशियों पर सबसे व्यापक असर हो रहा है...मंगल मकर राशि में 4 मई तक रहेगा।
1
2
इस वर्ष बैसाखी का पर्व 13 अप्रैल 2020 को मनाया जा रहा है। बैसाखी नाम वैशाख से बना है। भारत त्योहारों का देश है, यहां कई धर्मों को मानने वाले लोग रहते है और सभी धर्मों के अपने-अपने त्योहार है। बैसाखी पंजाब और आसपास के प्रदेशों का सबसे बड़ा त्योहार
2
3
11 अप्रैल 2020, शनिवार को संकष्टी चतुर्थी मनाई जा रही है। यह एक बेहद खास तिथि है। इस दिन श्री गणेश की उपासना करने का विधान है। इस समय हर कोई कोरोना वायरस की महामारी से परेशान है, ऐसे में अगर आप भी जीवन में कष्‍टों का अनुभव कर रहे हैं, तो उनके लिए यह ...
3
4
संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत करने से घर-परिवार में आ रही विपदा दूर होती है, कई दिनों से रुके मांगलिक कार्य संपन्न होते है तथा भगवान श्री गणेश असीम सुखों की प्राप्ति कराते हैं।
4
4
5
गुरु मकर राशि में 10 अप्रैल 2020 तक बने रहेंगे। 10 अप्रैल से गुरु कुंभ राशि में आ जाएंगे... ज्योतिषशास्त्र के अनुसार गुरु ग्रह को ज्ञान और सत्कर्म का कारक माना जाता है। गुरु का राशि परिवर्तन कुछ राशियों के लिए शुभ है तो कुछ के लिए अशुभ।
5
6
खजूर रविवार के बाद आने वाला गुरुवार 'पवित्र गुरुवार' कहलाता है। इस दिन प्रभु ईसा ने अंतिम भोजन के समय अपने शिष्यों को यह आज्ञा दी थी, 'तुम एक-दूसरे को प्रेम करो, जैसे मैंने तुमसे प्रेम किया है।
6
7
प्रभु ईसा मसीह ने हमें दूसरों को क्षमा करने का संदेश दिया। गुड फ्रायडे के दिन प्रभु ईसा मसीह को सूली पर चढ़ाया गया था। सूली पर चढ़ते वक्त प्रभु ने सात वाणियां कहीं थीं जो अमर हो गईं।
7
8
यदि आप सुंदर बीवी चाहते हैं तो हर गुरुवार सुबह पांच इलायची, पीले वस्त्र के साथ किसी गरीब को दान दें।
8
8
9
ईस्टर ईसाई धर्म का खास पर्व है। वर्ष 2020 में यह 12 अप्रैल को मनाया जाएगा। ईस्टर फेस्टिवल वसंत ऋतु में पड़ता है। ईस्टर ईसाइयों का सबसे बड़ा पर्व है।
9
10
सात अंजुली जलं ''विश्वावसु'' गंधर्व को अर्पित करें और निम्न मंत्र का 108 बार मन ही मन जप करें। ध्यान रहे कि इसे गुप्त रखें।
10
11
सास और बहू का रिश्ता बड़ा नाजुक होता है। कई बार दोनों पक्ष सही होते हैं पर आमने-सामने आ जाते हैं। वैसे तो इसके कई सामाजिक, पारिवारिक और मनोवैज्ञानिक कारण हैं लेकिन कुछ ज्योतिष के उपाय भी रिश्तों को मधुर बनाने में मददगार सिद्ध हो सकते हैं।
11
12
धन कमाने के कदम सरल उपाय दिए जा रहे हैं आप अपनी सुविधा से किसी 1 को भी अपना सकते हैं। आप बस नियमित उसका पालन करें।
12
13
प्रचुर धन प्राप्ति के लिए नीचे दिए गए किसी भी एक शनि मंत्र का जाप करें। जाप संध्याकाल के समय करें-
13
14
जिन परिवारों में कलह-क्लेश के कारण अशांति का वातावरण हो, वहां घर के लोग इस मंत्र का अधिकाधिक जप करें
14
15
अयि गिरि नन्दिनी नन्दिती मेदिनि इस दिव्य स्तुति को पढ़ने से सौभाग्य चमकता है, सफलता के दरवाजे अपने आप खुलने लगते हैं...
15
16
नौकरी या रोजगार संबंधी समस्या से परेशान हैं तो हर तरह की मेहनत और प्रयत्न के साथ इन्हें भी जरूर आजमाइए....
16
17
पीड़ित जातक को चाहिए कि वह पीड़ित ग्रह के दंड को पहचान कर उक्त ग्रह की अनुकूलता हेतु उक्त ग्रह का रत्न धारण करें और संबंधित ग्रह के मंत्र को जपें तो जातक सुखी बन सकता है। साथ में जातक संबंधित ग्रह के क्षेत्र का दान और उस ग्रह के रत्न की माला से जप ...
17
18
मंत्र 3 प्रकार के हैं- सात्विक, तांत्रिक और साबर। सभी मंत्रों का अपना-अलग महत्व है। प्रतिदिन जपने वाले मंत्रों को सात्विक मंत्र माना जाता है। आओ जानते हैं ऐसे कौन से मंत्र हैं जिनमें से किसी एक को प्रतिदिन जपना चाहिए जिससे मन की शक्ति ही नहीं बढ़ती, ...
18
19
12 अप्रैल 2020, रविवार को ईस्टर डे मनाया जाएगा। दुनियाभर में ईसाई समुदाय के लोग प्रभु यीशु के जी उठने की याद में 'ईस्टर संडे' मनाते हैं।
19