सांसदों की गैरमौजूदगी से पीएम मोदी नाराज, दी यह बड़ी हिदायत

Last Updated: मंगलवार, 16 जुलाई 2019 (11:54 IST)
नई दिल्ली। बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा सांसदों के राज्यसभा और लोकसभा में अनुपस्थित रहने पर नाराजी जताई। प्रधानमंत्री ने सांसदों को कहा कि राजनीति से ऊपर उठकर जनता के कामों को करें। बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी, विदेश मंत्री एस. जयशंकर, केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन समेत बीजेपी के सांसद और मंत्री मौजूद थे।
लोकसभा और राज्यसभा के सभी सांसदों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि राजनीति से हटकर सांसदों को काम करना चाहिए। देश के सामने जल संकट है, इसलिए उसके लिए भी सांसदों को काम करना चाहिए।

पीएम ने कहा कि 'अपने इलाके के अधिकारियों के साथ बैठक कर जनता की समस्याओं के बारे में बात करनी चाहिए। सांसदों और मंत्रियों को संसद में रहना चाहिए। जो मंत्री रोस्टर ड्यूटी में उपस्थित नहीं रहते हैं, उनके बारे में उसी दिन शाम तक मुझे बताया जाए।
उन्होंने सांसदों से कहा कि सरकारी काम और योजनाओ में बढ़-चढ़कर भाग लें। सामाजिक कार्यों में हिस्सा लें, जब संसद चल रही हो तो सदन में उपस्थित रहें। प्रधानमंत्री ने सुझाव दिया कि सांसद अपने संसदीय क्षेत्र के लिए कोई एक इनोवेटिव काम करें। जिला प्रशासन के साथ मिलकर काम करें।



और भी पढ़ें :