कश्मीर में खूनी ईद, पत्थरबाजी हुई, IS और पाक झंडे लहराए

सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित शनिवार, 16 जून 2018 (19:09 IST)
हमें फॉलो करें
श्रीनगर। के लिए शनिवार को का दिन खूनी साबित हुआ है। ने एलओसी पर गोले बरसा कर एक जवान की जान ले ली तो आतंकियों ने भी पर हमला कर एक जवान को गंभीर रूप से जख्मी कर डाला। ईद की नमाज के बाद कश्मीरभर में जमकर पत्थरबाजी तो हुई ही, तथा पाकिस्तान के झंडे जगह जगह लहराए गए।

ईद के मौके पर कश्मीर घाटी में हुए भारी हिंसक प्रदर्शनों के कारण 40 से अधिक लोग घायल हुए हैं। इसके अलावा हिंसक प्रदर्शनों में अनंतनाग के रहने वाले एक युवक की मौत हुई है, जिसके बाद में तनाव का माहौल बना हुआ है। सूत्रों के मुताबिक उक्त युवक अनंतनाग के हिंसक प्रदर्शनों के दौरान गंभीर रूप से घायल हुआ था, जिसके बाद के अस्पताल में इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

जानकारी के मुताबिक ईद के मौके पर कश्मीर में हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान 40 से अधिक लोग घायल हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक ईद की नमाज के बाद दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग, पुलवामा और शोपियां जिले में भारी हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। इसके अलावा श्रीनगर के डाउन टाउन स्थित तमाम हिस्सों में हिंसा की घटनाएं हुई हैं।

सूत्रों के मुताबिक श्रीनगर के नौहट्टा, सफाकदल व खान्यार इलाकों में हिंसक घटनाएं हुई हैं। यहां उपद्रवियों ने सुरक्षाबलों पर भारी पथराव करते हुए भारत विरोधी नारेबाजी भी है। बताया जा रहा है कि श्रीनगर में हुए हिंसक प्रदर्शनों में पाकिस्तानी झंडे लहराए जाने के बाद पुलिस और सीआरपीएफ ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे हैं, जिसके बाद शहर में अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती भी की गई है।
इसके अलावा दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में भी ईद की नमाज के बाद हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। इन प्रदर्शनों के बीच अनंतनाग के बराकपोरा इलाके में एक युवक की मौत हुई है। पुलिस के मुताबिक उक्त युवक हिंसा की घटनाओं के बीच हुए एक ग्रेनेड ब्लास्ट में घायल हुआ था, जिसके बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पुलिस के अनुसार मृत व्यक्ति की पहचान शिराज अहमद के रूप में की गई है। वहीं अनंतनाग में हुए हिंसक प्रदर्शनों के दौरान 10 सुरक्षाकर्मियों समेत कुल 22 लोग घायल हुए हैं। हिंसक प्रदर्शन के दौरान घायल 9 लोगों के गंभीर होने के बाद अब इन्हें श्रीनगर के महाराजा हरिसिंह अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।


अनंतनाग में हुई हिंसा के अलावा दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में भी सुरक्षाबलों पर पथराव करते हुए हिंसक प्रदर्शन किए गए हैं। शोपियां में हुए प्रदर्शन यहां के डिस्ट्रिक्ट कोर्ट परिसर के पास हुए हैं। बताया जा रहा है कि इन हिंसक प्रदर्शनों में 7 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

पुलिस के मुताबिक दक्षिण कश्मीर के अलावा उत्तरी कश्मीर के एलओसी से सटे जिलों कुपवाड़ा और बारामुला में भी हिंसा की घटनाएं हुई हैं। इस क्रम में बारामुला के सोपोर में हिंसा के दौरान कई लोगों के घायल होने की भी खबर है। हालांकि घायलों की संख्या के संबंध में अब तक कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।



ईद के मौके पर आतंकियों ने भी श्रीनगर में सीआरपीएफ और पुलिस की एक पेट्रोलिंग टीम पर हमला किया था। श्रीनगर के लासजन इलाके में हुए इस हमले में सीआरपीएफ की पट्रोलिंग टीम के जवानों पर फायरिंग की गई थी, जिसके बाद आतंकी मौके से फरार हो गए थे। इस फायरिंग के दौरान सीआरपीएफ के जवान दिनेश पासवान घायल हुए थे, जिन्हें गंभीर हालत में यहां के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

वहीं ईद के एक रोज पहले पाकिस्तान ने भी राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में भारी गोलाबारी की थी। इस गोलाबारी के दौरान नियंत्रण रेखा पर पाक के खिलाफ कार्रवाई करते हुए सेना की गोरखा राइफल्स के जवान विकास गुरंग शहीद हुए थे। विकास मुख्य रूप से उत्तराखंड के ऋषिकेश के निवासी थे और उन्हें सुरक्षा के लिए नौशेरा में सेना की फॉरवर्ड पोस्ट पर तैनात किया गया था।



और भी पढ़ें :