Monsoon Update : दिल्ली में लगातार बारिश से गर्मी में मिली राहत तो मुंबई में बढ़ी परेशानी, भूस्खलन व मकान गिरने से 30 लोगों की मौत

Last Updated: सोमवार, 19 जुलाई 2021 (18:27 IST)
नई दिल्ली। लगातार हो रही से दिल्लीवासियों को गर्मी से काफी राहत मिली है। रात से शुरू हुई बारिश के चलते दिल्ली का पारा भी गिर गया है। लगातार हो रही बारिश के साथ-साथ एनसीआर में कहीं-कहीं बिजली भी कड़की। कई इलाकों में भारी बारिश के चलते जलभराव जैसी परेशानियों का भी लोगों को सामना करना पड़ा। में भी इस वक्त भारी बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात बने हुए है।
मौसम विभाग ने आज भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। पश्चिम बंगाल, अंडमान निकोबार, असम, मेघालय, मिजोरम और त्रिपुरा में गरज और बिजली गिरने के साथ मध्यम से तीव्र बारिश की संभावना मौसम विभाग ने जताई है।

भारतीय मौसम विभाग ने उत्तर भारत में और देश के पश्चिमी समुद्र तटीय इलाकों में 23 जुलाई तक जमकर बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया है। विभाग के मुताबिक 21 जुलाई तक पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र (जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्तान एवं मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड) और उससे लगते उत्तर-पश्चिम भारत (पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और उत्तरी मध्य प्रदेश) में भारी से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है।

मुंबई में 30 लोगों की मौत : मुंबई में रातभर हुई भारी बारिश के कारण विभिन्न घटनाओं में 30 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही आर्थिक राजधानी में मूसलाधार बारिश के कारण जलभराव हुआ और यातायात भी प्रभावित रहा।


पश्चिम रेलवे और मध्य रेलवे ने भारी बारिश के चलते मुंबई में उपनगरीय ट्रेन सेवाओं को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया तथा लंबी दूरी की कई ट्रेनों का या तो मार्ग परिवर्तित कर दिया गया या उनका अन्य स्टेशनों से परिचालन हो रहा है।

दमकल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि एक पर्वतीय क्षेत्र में भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन में एक परिसर की दीवार ढहने से उसके नीचे दबकर 19 लोगों की मौत हो गई।

अधिकारी ने बताया कि मुंबई में माहुल इलाके के वाशी नाका में देर रात करीब एक बजे एक पेड़ के गिर जाने से उससे सटे एक मकान की दीवार ढह गई। घटना में सात लोग घायल हो गए, जिन्हें पास के राजावाड़ी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
उन्होंने बताया कि भारी बारिश के कारण मुंबई के विक्रोली उपनगर में देर रात करीब ढाई बजे भूस्खलन के चलते छह कच्चे मकानों के ढह जाने से 10 लोगों की मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए। घायलों को निकटवर्ती अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, उपनगर भांडुप में वन विभाग परिसर की दीवार ढह जाने से 16 वर्षीय एक लड़के की मौत हो गई।

एक मौसम विज्ञानी ने बताया कि मुंबई में तीन घंटे में 250 मिलीमीटर से अधिक बारिश हुई जो रविवार सुबह 305 मिलीमीटर तक पहुंच गई। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने बताया कि भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने भारी बारिश की पृष्ठभूमि में मुंबई के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। आईएमडी ने बताया कि डॉपलर राडार से प्राप्त चित्रों में दिखाई दे रहा है कि तूफान 18 किलोमीटर (करीब 60,000 फुट) की ऊंचाई पर है। (इनपुट भाषा)



और भी पढ़ें :