CBSE 12th Exam: किसने रद्द करवाई परीक्षा? अब श्रेय की होड़, कांग्रेस ने कहा- प्रियंका के आगे झुकी सरकार

पुनः संशोधित बुधवार, 2 जून 2021 (13:20 IST)
नई दिल्ली। (CBSE) के साथ-साथ आईसीएसई (ICSE) के एक्जाम भी कैंसिल हो गए हैं। इस परीक्षा के रद्द होने के बाद बच्चों और उनके परिजनों के मन पर क्या असर हुआ है, इसकी फिलहाल किसी को भी चिंता नहीं है। लेकिन, परीक्षा रद्द करवाने को लेकर 'राजनीतिक जंग' जरूर छिड़ गई है। सोशल मीडिया पर कांग्रेसी इसके लिए महासचिव प्रियंका गांधी को दे रहे हैं। उनका कहना है कि प्रियंका गांधी के आगे सरकार को झुकना पड़ा।

सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेताओं ने इसका श्रेय दिल खोलकर प्रियंका गांधी को दिया है। यूपी कांग्रेस ने लिखा- विद्यार्थियों का मुद्दा उठाने के लिए प्रियंका गांधी को धन्यवाद। आल इंडिया कांग्रेस कमेटी के प्रवीण झा ने लिखा- प्रियंका गांधी द्वारा यह मुद्दा उठाने के बाद लापरवाह सिस्टम जाग उठा। सुरेन्द्र राजपूत ने लिखा- प्रियंका गांधी जी के आगे झुकी सरकार। 12वीं की परीक्षा रद्द।

प्रियंका गांधी ने भी ट्‍वीट में लिखा कि मैंने इस संबंध में शिक्षा मंत्री को पत्र लिखा था। इसमें परीक्षा को लेकर विद्यार्थी, उनके परिजन और शिक्षकों के सुझावों को भी शामिल किया था। उनकी आवाज सुनी जानी चाहिए।
हालांकि कई लोगों ने इस मामले में प्रियंका गांधी को निशाने पर भी लिया। डॉ. मीनाक्षी मिश्रा ने कटाक्ष करते हुए लिखा- सचिन ने बांग्लादेश के खिलाफ 100 रन बनाए थे। यह इसलिए संभव हो सका क्योंकि प्रियंका की दादी ने बांग्लादेश बनाया था। ना बांग्लादेश होता और न ही सचिन का शतक बनता। इसका श्रेय सिर्फ एक परिवार को जाता है।
ब्रूहान नड्‍डा ने लिखा- मेरा पुत्र 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद बहुत खुश था, जब तक कि उसने प्रियंका गांधी को इसका श्रेय लेते हुए नहीं देखा। अब वह इस बात को लेकर चिंतित है कि कहीं न कहीं यह देश के लिए गलत है। वहीं, जितेन्द्र गजरिया ने कमेंट करते हुए लिखा- प्रियंका गांधी की मांग है कि कल सूरज 'पूर्व' में उगना चाहिए।

छत्तीसगढ़ को लेकर सवाल : दूसरी ओर, कुछ छत्तीसगढ़ को लेकर भी प्रियंका गांधी से सवाल पूछ रहे हैं। लोगों का मानना है कि प्रियंका के कहने पर अगर पूरे देश में 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द हो सकती हैं तो फिर छत्तीसगढ़ में तो कांग्रेस की ही सरकार है। मप्र भाजयुमो के अध्‍यक्ष वैभव पवार ने लिखा- कांग्रेस शासित छत्‍तीसगढ़ के आज 12वीं के छात्रों ने पहला पेपर दिया और चमचे सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने का श्रेय प्रियंका गांधी को दे रहे हैं।



और भी पढ़ें :