अरुण जेटली नहीं बनेंगे मंत्री, नरेन्द्र मोदी को लिखी चिट्‍ठी

पुनः संशोधित बुधवार, 29 मई 2019 (13:35 IST)
नई दिल्ली। वरिष्‍ठ भाजपा नेता अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि मेरा स्वास्थ्य ठीक नहीं है, ऐसे में मुझे मेरे स्वास्थ्य का ध्यान रखने और इलाज के लिए कुछ समय चाहिए। ऐसे में मैं नई सरकार में कोई दायित्व नहीं ले पाऊंगा।
उन्होंने पत्र में कहा कि पिछले 18 महीनों से मेरा स्वास्‍थ्य ठीक नहीं है। मेरी सेहत पिछले कुछ समय से खराब है और डॉक्टरों ने आराम करने की सलाह दी है। मैं यह खत विनती करते हुए लिख रहा हूं कि मैं अपने स्वास्थ्य और अपने लिए वक्त चाहता हूं। इसलिए मैं किसी भी तरह की जिम्मेदारी वर्तमान और नई सरकार में नहीं संभाल सकता हूं।

जेटली ने पत्र में कहा कि यह मेरे लिए सम्मान की बात रही कि मैं पिछले पांच साल उस सरकार का हिस्सा रहा जिसका नेतृत्व आप (मोदी) कर रहे थे। इससे पहले भी पार्टी ने एनडीए के कार्यकाल में मुझे कई जिम्मेदारियां दी थी। मैं इससे ज्यादा की मांग नहीं कर सकता।
उल्लेखनीय है कि जेटली फिलहाल मोदी सरकार में वित्त मंत्री है। पिछले कुछ दिनों से अचानक अरुण जेटली के स्वास्थ्य को लेकर सवाल उठ रहे थे। यह भी कहा जा रहा था कि जेटली इलाज के लिए विदेश जा सकते हैं। इस पर सरकार ने कहा था कि मीडिया के एक तबके में केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की स्वास्थ्य स्थिति को लेकर जो खबरें चल रही हैं, वह पूरी तरह गलत और निराधार है।



और भी पढ़ें :