वायुसेना कमांडरों का 3 दिवसीय सम्मेलन शुरू, देश के सुरक्षा परिदृश्य की हुई समीक्षा

पुनः संशोधित गुरुवार, 15 अप्रैल 2021 (19:23 IST)
नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना के शीर्ष कमांडरों के 3 दिवसीय सम्मेलन के पहले दिन गुरुवार को वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएससी) सहित भारत के समक्ष विभिन्न सुरक्षा चुनौतियों की समग्र समीक्षा शुरू हुई। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली में में कमांडरों के छमाही सम्मेलन का उद्घाटन किया।
सूत्रों ने बताया कि सिंह ने इस अवसर पर युद्ध जैसी स्थितियों के लिए हर समय तैयार रहने तथा भविष्य की चुनौतियों से निपटने जैसे दृढ़ इरादों के लिए वायुसेना की प्रशंसा की। कमांडरों ने पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर स्थिति सहित भारत के समक्ष उत्पन्न सभी सुरक्षा चुनौतियों की समीक्षा की।
ALSO READ:
राजनाथ सिंह ने की अमेरिकी रक्षामंत्री ऑस्टिन से चर्चा, मल्टी मिशन सशस्त्र प्रीडेटर ड्रोन पर भी होगी बातचीत
सम्मेलन में कमांडर देश के समक्ष भविष्य की चुनौतियों को ध्यान में रखकर भारतीय वायुसेना की क्षमताओं को और बढ़ाने संबंधी रणनीतियों तथा नीतियों पर भी चर्चा करेंगे।

इस सम्मेलन में भारतीय वायुसेना की सभी कमानों के प्रमुख, सभी प्रधान स्टाफ अधिकारी और दिल्ली में वायुसेना मुख्यालय में तैनात सभी महानिदेशक भाग ले रहे हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :