0

जल्द दूर नहीं होंगी भारतीय गणतंत्र की मुसीबतें

बुधवार,जनवरी 26, 2011
0
1
अमेरिकी स्वतंत्रता के नायक माने जाने वाले थॉमस जेफरसन ने ब्रिटेन से अमेरिका की आजादी के बाद कहा था कि लोकतंत्र का मतलब होता है कि सभी लोगों को अधिक से अधिक फायदा मिले। पर जब यही बात हम अपने देश के परिप्रेक्ष्य में देखते हैं तो लगता है कि हमने अभी ...
1
2
स्वतंत्र भारत की यह कैसी 'स्वतंत्रता' है कि हम अपने देशप्रेम की अभिव्यक्ति के लिए भी अलगाववादियों और आतंकवादियों की मंशा पर निर्भर हैं। बात महज इतनी है कि देश के ही कुछ लोग कुछ खास स्थानों पर इस राष्ट्रीय दिवस पर तिरंगा फहराना चाहते हैं। और दुखद ...
2
3
जम्मू-कश्मीर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने न फहराने की अपील कोई और नहीं यहाँ के मुख्‍यमंत्री उमर अब्दुल्ला कर रहे हैं और इस फैसले को उचित ठहरा रही है देश की प्रजातांत्रिक ढंग से चुनी गई केंद्र सरकार।
3
4

जन गण मन का 'शताब्दी वर्ष'

मंगलवार,जनवरी 25, 2011
राष्ट्रगीत हो या राष्ट्रध्वज देशवासियों के आन-बान और शान के साथ प्रेरणा स्रोत होता है। जो राष्ट्रीय सार्वभौमिकता का प्रतीक है। राष्ट्र के सम्मान का गीत 'जन गण मन' तमाम हिन्दुस्तानियों की शान और जोश का संचार करने वाला ऐसा ही राष्ट्रगीत है जो अपने ...
4
4
5

ऐसा हो गणतंत्र हमारा

मंगलवार,जनवरी 25, 2011
ऐसा हो गणतंत्र हमारा जनहित के प्रति रहे समर्पित, शासन तथा प्रशासन सारा। खुशियों से हो भरा राष्ट्र यह, गुंजित हो 'जयहिंद' सुनारा। बढ़ें सुपथ पर, मिलकर सारे राष्ट्र बने प्राणों से प्यारा। ऐसा हो गणतंत्र हमारा॥ देशभक्ति की धार सुपावन, जन-मन में ...
5
6

हम भी तो कुछ देना सीखें

मंगलवार,जनवरी 25, 2011
केवल गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस जैसे राष्ट्रीय त्योहार मनाकर ही अपने कर्तव्य की इतिश्री न समझ लें। जातिवाद को बढ़ावा न देकर राष्ट्रवाद को अपनाएँ। हर दिन, हर छोटे-बड़े कार्य में देशहित का सोचें व उस पर अमल करें तो शायद बिना वर्दी के भी सच्ची ...
6
7
'हमारे गणराज्य का उद्देश्य है इसके नागरिकों के लिए न्याय, स्वतंत्रता और समता प्राप्त करना तथा इस विशाल देश की सीमाओं में निवास करने वाले लोगों में भ्रातृ-भाव बढ़ाना, जो विभिन्न धर्मों को मानते हैं, अनेक भाषाएँ बोलते हैं और अपने विभिन्न रीति-रिवाजों ...
7
8
26 जनवरी। हमारा राष्ट्रीय पर्व। एक अत्यंत शुभ दिन। वह दिन जब हमने अपना संविधान लागू किया था। जनता का, जनता के लिए, जनता द्वारा शासन को सर्व सम्मति से स्वीकार किया था। इस दिन की शुभता पर भला कैसे प्रश्न चिन्ह खड़े किए जा सकते हैं? फिर भी पता नहीं ...
8
8
9
मैं आपका अपना राष्ट्रध्वज बोल रहा हूँ। गुलामी की काली स्याह रात के अंतिम प्रहर जब स्वतंत्रता का सूर्य निकलने का संकेत प्रभात बेला ने दिया, तब 22 जुलाई 1947 को भारत की संविधान सभा के कक्ष में पं. जवाहरलाल नेहरू ने मुझे विश्व एवं भारत के नागरिकों के ...
9
10
भारत के प्रथम राष्‍ट्रपति डॉ. राजेन्‍द्र प्रसाद ने 26 जनवरी 1950 को 21 तोपों की सलामी के साथ भारतीय राष्‍ट्रीय ध्‍वज को फहराकर 61 वर्ष पहले भारतीय गणतंत्र के जन्‍म की ऐतिहासिक घो‍षणा की थी। अंग्रेजों के शासनकाल से 894 दिन बाद हमारा देश स्‍वतंत्र ...
10
11

गणतंत्र दिवस पर सजे बाजार

सोमवार,जनवरी 24, 2011
आजकल कोई पर्व हो या कोई त्योहार, बाजार सबसे पहले उसे भुनाने की कोशिश करता है। गणतंत्र दिवस के मौके पर भी ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए बाजार पूरी तरह तैयार है। गणतंत्र दिवस के मौके पर खाने-पीने के लिहाज से भी ग्राहकों को लुभाने की पूरी कोशिश की ...
11