कोरोना संकट से निपटने के लिए मध्यप्रदेश में ESMA लागू, कमलनाथ ने उठाए सवाल

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित बुधवार, 8 अप्रैल 2020 (23:00 IST)
भोपाल ।
कोरोना संकट से निपटने के लिए ने राज्य में एस्मा लागू कर दिया है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सरकारी एवं निजी स्वास्थ्य एवं चिकित्सकीय संस्थानों में ऐस्मा (ESMA) तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है।
इन संस्थानों में समस्त स्वास्थ्य सुविधाएँ, डॉक्टर्स, नर्स और स्वास्थ्य कर्मी तथा स्वास्थ्य संस्थानों में स्वच्छता कार्यकर्ता, मेडीकल उपकरणें की बिक्री, संधारण एवं परिवहन, दवाइयों एवं ड्रग्स की बिक्री, परिवहन एवं विनिर्माण, एम्बुलेंस सेवाओं पर लागू किया गया है।

यह आदेश पानी एवं बिजली की आपूर्ति, सुरक्षा संबंधी सेवाएँ, खाद्य एवं पेयजल प्रावधान एवं प्रबंधन तथा बॉयोमेडीकल वेस्ट प्रबंधन में भी प्रभावशील किया गया है। इन अत्यावश्यक सेवाओं में एस्मा लागू होने से कार्य करने से इंकार किये जाने को प्रतिषेध किया गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि लोगों की भलाई और कोरोना से निपटने के बेहतर प्रबंधन के लिए राज्य में को लागू किया गया है।

कांग्रेस ने उठाए सवाल – राज्य में एस्मा लागू होने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सवाल उठाए है। उन्होंने ट्वीट कर सरकार के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब प्रदेश में सभी सरकारी डॉक्टर, मेडिकल स्टॉफ, अधिकारी,कर्मचारी बेहद ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का पालन कर जनता के हित में रात –दिन कार्य कर रहे है, तब संकट की इस घड़ी में सब एक है ऐसे में प्रदेश में एस्मा लागू करने का निर्णय कानून का भय,समझ से परे है।








और भी पढ़ें :