51 देशों में आराम से घूम सकते हैं भारतीय पासपोर्ट धारक

पुनः संशोधित मंगलवार, 20 मार्च 2018 (11:50 IST)
हमें फॉलो करें
भारतीय पासपोर्ट धारकों को 24 देशों में वीजा की जरूरत नहीं पड़ती। इनके अलावा 27 दूसरे देश भी देते हैं। एक नजर इनमें से कुछ अहम देशों पर।

बोलिविया
90 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल।

केप वेर्डे
30 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल।

फिजी
4 महीने तक वीजा की जरूरत नहीं।

इक्वाडोर
90 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल।

इथियोपिया
30 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल।

इंडोनेशिया
30 दिन के लिए वीजा की जरूरत नहीं, लेकिन यात्रा का मकसद होना चाहिए।
जॉर्डन
वीजा ऑन अराइवल, दो हफ्ते की होटल बुकिंग और पर्याप्त बैंक बैलेंस का सबूत।

केन्या
तीन महीने के लिए वीजा ऑन अराइवल।

मिक्रोनेशिया
30 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल।

मलेशिया
30 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल

कतर
वीजा ऑन अराइवल, 30 दिन की अवधि के हिसाब से शुल्क।

सर्बिया
वीजा का जरूरत नहीं।
सूरीनाम
90 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल।

यूक्रेन
15 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल, टूरिज्म या बिजनेस डॉक्यूमेंट्स के साथ।

वियतनाम
वीजा ऑन अराइवल, 30 दिन की अवधि के हिसाब से शुल्क।

समोआ
अराइवल पर अधिकतम 90 दिन का एंट्री परमिट।

वानुआतु
वीजा ऑन अराइवल, 30 दिन के लिए।

जाम्बिया
30 दिन के लिए वीजा ऑन अराइवल।
सेशल्स
'विजिटर्स परमिट' लेकर भारतीय यात्री सेशल्स में तीन महीने तक रह सकते हैं। सुंदर समुद्री किनारों के अलावा सेशल्स में ईको टूरिज्म भी जोर पकड़ रहा है।
थाईलैंड
शॉपिंग के गढ़ के रूप में काफी मशहूर हो चुके थाईलैंड में खूबसूरत द्वीप, गुफाएं और साफ नीले रंग के समुद्र वाले तट भी हैं। थाईलैंड के एयर पोर्ट पर उतरने के बाद वीसा ले सकते हैं।

भूटान
भारतीयों के अलावा बांग्लादेश और मालदीव के नागरिकों को भी भूटान जाने के लिए वीसा की कोई जरूरत नहीं है। हिमालय की ऊंचाईयों पर बसे इस छोटे से देश में कई हजार मीटर की ऊंचाई पर स्थित टाइगर्स नेस्ट बौद्ध मठ बहुत पवित्र स्थल माना जाता है।
मालदीव
यहां के लिए भी भारतीयों को पहले से वीसा लेने की कोई जरूरत नहीं। अपना होटल बुक कीजिए, बैंक अकाउंट की कुछ जानकारी जमा कीजिए और बाकी काम हवाई जहाज में बैठने के बाद कर सकते हैं। सफेद रेतीले समुद्री किनारे आपका मन मोहने को तैयार मिलेंगे।

मॉरिशस
हिंद महासागर में बसे इस ज्वालामुखी द्वीप देश के ट्रॉपिकल नजारों का आनंद उठाने पहुंचिए। बिना वीसा की चिंता किए तैयारी कीजिए सफेद रेत पर पीना कोलाडा पीते हुए सुस्ताने की।
कंबोडिया
अंगकोरवाट के प्राचीन स्मारक या फिर टोन्ले सैप के तैरते हुए गांव - वीसा पाने के चक्करों में पड़े बिना ये आपको कंबोडिया में अपनी छुट्टियां बिताने का निमंत्रण देते हैं।

मैडागास्कर
घने वर्षा वनों वाले इस देश में पहुंचने वाले भारतीयों को आसानी से वीसा मिल जाता है। दुनिया में केवल इसी विशाल द्वीप पर प्राइमेट प्रजाति लीमर मिलती है। कई अनोखे अनुभवों के लिए करें इस विदेश यात्रा की तैयारी।
श्रीलंका
दो दिनों की ट्रिप के लिए भारतीयों को कोई वीसा फीस नहीं देनी पड़ती। सीधे हवाई जहाज से पहुंचिए और श्रीलंका के समृद्ध वन्य जीवन, खूबसूरत समुद्री तटों और बहुरंगी संस्कृति का लुत्फ उठाइए। लंबे समय तक घूमना चाहें तो कुछ वीसा फीस भरनी पड़ेगी।

लाओस
यहां पहुंच कर वीसा लीजिए और अगले 30 दिनों तक लाओस के खूबसूरत नजारों का आनंद लीजिए। फ्रांसीसी उपनिवेश की याद दिलाने वाली वास्तुकला, पहाड़ी आदिवासी बस्तियां और बौद्ध मठों की सैर करें।
कैरेबियन द्वीप समूह
क्रिकेट प्रेमियों के लिए त्रिनिदाद और टोबैगो की यात्रा जरूरी है। यह वेस्ट इंडीज की टीम में शामिल प्रमुख देश है। इसके अलावा पास ही स्थित अल सल्वाडोर और सेंट लूसिया में भी भारतीयों को वीसा ऑन अराइवल की सुविधा है।

नेपाल
हिमालय पर्वत की श्रृंखलाएं, बौद्ध मठ, मंदिर, घने जंगलों की सैर- हर तरह के टूरिस्ट के लिए यहां कुछ ना कुछ मिलेगा। वीसा की चिंता किए बिना भारतीय सीधे निकल सकते हैं नेपाल की यात्रा पर।



और भी पढ़ें :