सैम करन ने कहा, 'पहले तो मैं गेंदबाज था, ऑलराउंडर बनाया आईपीएल ने'

Last Updated: मंगलवार, 9 मार्च 2021 (19:34 IST)
अहमदाबाद:के युवा ऑलराउंडर और के खिलाड़ी ने कहा है कि उन्हें लगता है कि ने उन्हें बेहतर खिलाड़ी बनाया है। उन्होंने कहा कि पिछले साल संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में आईपीएल खेलना बहुत शानदार अनुभव रहा।
इंग्लैंड की टीम में वापस लौटे करेन ने कहा, ' पिछले साल यूएई में आईपीएल के दौरान मैंने अलग-अलग भूमिकाएं निभाईं और विभिन्न तरीकों से चुनौतियों का सामना किया, जिसका मैंने खूब आनंद लिया। मुझे लगता है कि यह मेरे लिए लाभदायक रहा। आईपीएल शानदार टूर्नामेंट है, हमारे जैसे खिलाड़ी आईपीएल में खेलना पसंद करते हैं। यहां प्रशंसकों की बहुत भीड़ होती है। वाकई भारत क्रिकेट खेलने के लिए उम्दा स्थान है। आईपीएल सर्वश्रेष्ठ टी-20 टूर्नामेंट है और हम खुश हैं कि टी-20 विश्व कप भी भारत में हो रहा है। इससे हमारी अच्छी तैयारी होगी और हमें यहां की परिस्थितियों में खेलने का अनुभव मिलेगा। मैं इसके लिए बहुत उत्साहित हूं। '
करन ने काम के दबाव और कोरोना वायरस के कारण बायो बबल (जैव सुरक्षित वातावरण) जैसी परेशानियों के बावजूद कहा कि अब भी उनका यही लक्ष्य है कि वह इंग्लैंड के लिए क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में खेलें। उन्होंने उम्मीद जताई कि वैक्सीन के विस्तार से आगामी महीनों, खासतौर पर 2021-22 की एशेज श्रृंखला में पाबंदियों में कुछ छूट मिलेगी।

करन ने इंग्लैंड की रोटेशन पॉलिसी के बारे में कहा, ' व्यक्तिगत तौर पर मुझे यह पॉलिसी लाभदायक लगी, लेकिन खिलाड़ियों के नजरिए से देखें तो बायो बबल (जैव सुरक्षित वातावरण) काफी मुश्किल है। लंबे समय तक अकेले रहना पड़ता है। आराम के बाद जब वापस आया तो मैंने खुद को तरोताजा महसूस किया। बेशक भारत मजबूत टीम है, लेकिन इतनी ज्यादा क्रिकेट और बायो बबल के कारण इंग्लैंड का रुख स्पष्ट है कि वह अपने खिलाड़ियों को इसमें नहीं झौंकेगा। टीम प्रबंधन खिलाड़ियों को मानसिक और शारीरिक रूप से तरोताजा रखना चाहता है। '
अगर CSK
फाइनल में पहुंचा तो कुरेन न्यूजीलैंड श्रृंखला के पहले मैच को छोड़ सकते है

इंग्लैंड के हरफनमौला सैम करन ने इस ओर इशारा किया कि अगर चेन्नई सुपर किंग्स की टीम इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 30 मई को खेले जाने वाले फाइनल में पहुंचती है तो वह दो जून से न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू होने वाली घरेलू टेस्ट श्रृंखला के पहले मैच को छोड़ सकते है।

इंग्लैंड में खिलाड़ियों के टेस्ट की जगह आईपीएल को तरजीह देने की चर्चा चल रही है और ऐसे में कुरेन का बयान इंग्लैंड क्रिकेट के लिए किसी वास्तविकता से रूबरू करने वाले की तरह था।
करन ने ब्रिटिश मीडिया से कहा, ‘‘ जाहिर है आपको देखना होगा कि आईपीएल टूर्नामेंट कैसे चलता है। अगर हम क्वालीफिकेशन (फाइनल) से चूक जाते है तो शायद टेस्ट मैचों के लिए उपलब्ध रहेंगे।’’

महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम के अहम सदस्य कुरेन ने कहा, ‘‘ अगर टीम फाइनल में पहुंचती है तो स्थिति थोड़ी अलग होगी। इसमें अभी काफी समय है। अभी किसी को नहीं पता कि आगे क्या होने वाला है, देखते है क्या होता है। ’’
चेन्नई सुपर किंग्स का 22 साल का यह हरफनमौला खिलाड़ी भारत इंग्लैंड के बीच होने वाले सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए यहां पहुंचा है। वह इस श्रृंखला के बाद अपनी आईपीएल टीम से जुड़ेंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘ खिलाड़ी के तौर पर उस टूर्नामेंट (आईपीएल) से जुड़ना शानदार है खासकर तब जब आगामी टी20 विश्व कप भारत में होना है। इससे बेहतर तैयारी होगी। इन परिस्थितियों को खुद में सुधार करने का अच्छा मौका मिलेगा।’’



और भी पढ़ें :