रिपब्लिक डे पर क्या 'विराट के वीरों की' Team India देश को दूसरी जीत का तोहफा देगी?

Author सीमान्त सुवीर| Last Updated: शुक्रवार, 24 जनवरी 2020 (21:38 IST)
26 जनवरी 2020 को जब हमारा देश 71वें के जश्न में पूरी तरह सराबोर हो रहा होगा, तब न्यूजीलैंड के शहर में भारतीय क्रिकेट टीम दूसरा टी20 मैच खेलने के लिए कमर कस चुकी होगी। देखना दिलचस्प होगा कि क्या 'विराट के वीर' देश से करीब 11 हजार 852 किलोमीटर दूर लगातार दूसरी जीत दर्ज करके भारतवासियों को गणतंत्र दिवस का शानदार तोहफा देंगे?
भारतीय क्रिकेट टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 टी20 मैचों की सीरीज का पहला मैच 24 जनवरी की दोपहर में (भारतीय समय) पूरी आन, बान और शान के साथ जीता, वह भी तब जबकि वे थके-मांदे ऑकलैंड पहुंचे थे। ऑकलैंड के ईडन पार्क पर कई भारतीय प्रशंसक तिरंगा ध्वज लेकर आए थे, जिसकी वजह से खिलाड़ियों का जोश बल्लियों उछलने लगा।
यूं भी विदेश में जहां भी कोई भारतीय हाथों में तिरंगा लहराता नजर आ जाता है तो देशप्रेम की भावना आसमान छूने लगती है। 26 जनवरी को भारत में सुबह से 71वें गणतंत्र दिवस की धूम मचने वाली है और कानों में देशभक्ति के गीत उत्साह की नई लहर पैदा करेंगे। मुख्य परेड राजधानी दिल्ली में होगी जबकि हर राज्य अपने स्तर पर गणतंत्र दिवस की आखिरी तैयारी कर चुका है।

उमंग और उत्साह के बीच टीम इंडिया को भी इसका इल्म है कि हमें देश को जीत का तोहफा देना है। यकीनन विराट की सेना 'मिशन न्यूजीलैंड' में दूसरे मैच से पहले ड्रेसिंग रूम में तिरंगे को सलाम करेगी और जान लड़ाकर मैच खेलेगी। यूं भी 48 घंटों के भीतर टीम इंडिया पहली जीत का स्वाद चख चुकी है, जिसने कप्तान विराट के हौसलों को कई गुना बढ़ा दिया है।
इस जीत से कल तक व्यस्त कार्यक्रम को लेकर अपनी भड़ास निकालने वाले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का गुस्सा भी काफुर हो गया और उनके चेहरे पर सुकुन दिखाई दिया। विराट का सुकुन इसलिए भी जायज है क्योंकि न्यूजीलैंड आने से पहले भारत ने अपने घर में द. अफ्रीका से 2 टी-20 और 3 टेस्ट, बांग्लादेश से 3 टी-20 और 2 टेस्ट, वेस्टइंडीज से 3 टी-20 और 3 वनडे तथा ऑस्ट्रेलिया से 3 वनडे खेले थे।

भारत की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज 19 जनवरी को बेंगलुरु में समाप्त हुई थी और अगले ही दिन 20 जनवरी को टीम इंडिया न्यूजीलैंड के लंबे दौरे के लिए आ गई जहां उसे 5 टी-20, 3 वनडे और 2 टेस्ट मैच खेलने हैं। इस व्यस्त कार्यक्रम की वजह से ही विराट की नाराजगी कुछ इस तरह छलकी कि उन्होंने कहा, हमें स्टेडियम में लैंड करवा दीजिए और मैच खेलने का कह दीजिए।

बहरहाल, अभी पुरानी बातों का कोई फायदा नहीं, पहली जीत का जश्न मनाने और आने वाले मैच की तैयारी का वक्त है, जो ठीक 2 दिन बाद ऑकलैंड के इसी ईडन पार्क में खेला जाना है। अगले मैच के लिए टीम इंडिया तरोताजा होकर मैदान में आएगी और यकीन है कि वह भारतवासियों को 71वें गणतंत्र दिवस पर जीत का उपहार देने में कोई कसर बाकी नहीं रखेगी।



और भी पढ़ें :