50 प्रतिशत दर्शक ही स्टेडियम में उठा सकेंगे भारत बनाम इंग्लैंड टी-20 सीरीज का लुत्फ

Last Updated: शुक्रवार, 12 मार्च 2021 (17:57 IST)
अहमदाबाद: कोरोना महामारी के कारण गुजरात क्रिकेट स्टेडियम ने यह निर्णय लिया है कि शुक्रवार को और के बीच शुक्रवार से शुरु हो रही 5 मैचों की में सिर्फ 50 प्रतिशत दर्शकों को ही मैच देखने की अनुमति मिलेगी।

12 मार्च से 20 मार्च तक खेली जानी वाली इस सीरीज में भी वैसे ही इंतजाम रहेंगे जैसे कि आखिरी दो टेस्ट मैचों में देखे गए थे। स्टेडियम में सभी कोविड प्रोटोकोल का पालन होगा।

गुजरात क्रिकेट स्टेडियम के उपाध्यक्ष धनराज नाथवानी ने कहा, "कोरोना महामारी के कारण सिर्फ 50 प्रतिशत सीटों पर ही दर्शक स्टेडियम में बैठकर मैच का आनंद ले सकेंगे। मैच देखने के इच्छुक दर्शकों को यह टिकट ऑनलाइन और ऑफलाइन तरीकों से प्राप्त करने होंगे।"

सीरीज से पहले पूरे स्टेडियम को सेनेटाइज कर दिया गया है और सभी कोरोना से संबंधित सभी दिशा निर्देशों का पालन हो रहा है। एक स्पेशल टास्क फोर्स कमेटी भी गठित की गई है जो यह सुनिश्चित करेगी कि कोविड संबंधित सभी प्रोटोकॉल का पालन हो।

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के कल के दिए बयान के बाद यह दर्शकों के लिए एक तरह की खुशखबरी ही है। कल सौरव गांगुली ने कहा था कि आईपीएल 2021 के सभी मैच बिना दर्शकों के खेल जाएंगे। इसके बाद यह उम्मीद लगाई जा रही थी कि भारत इंग्लैंड टी-20 सीरीज भी शायद बिना दर्शकों के ही खेली जाए। लेकिन गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन की इस घोषणा से दर्शकों को राहत मिली है।

करीब दो साल बाद स्टेडियम में टी-20 देखेगी भारत की जनता
गौरतलब है कि भारत और इंग्लैंड चेन्नई के दूसरे टेस्ट से ही 50 फीसदी दर्शकों के प्रवेश की अनुमति मिल गई थी। करीब एक साल के अंतराल के बाद दर्शक स्टेडियम में क्रिकेट का लुत्फ उठाते हुए पाए गए थे। इससे पहले जनवरी 2020 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बैंगलूरू में सीरीज के आखिरी वनडे में दर्शक दिखे थे।

हालांकि टी-20 की बात करें तो करीब 2 साल बाद भारतीय दर्शक क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट का लुत्फ स्टेडियम में बैठकर उठा पाएंगे। इससे पहले टी-20 मैच भारत और बांग्लादेश की टीमों के बीच 10 नवंबर 2019 को खेला गया था। इस मैच को 30 रनों से जीतकर टीम इंडिया ने सीरीज अपने नाम की थी। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :