आईपीएल 2020 नीलामी में 2 करोड़ के ब्रैकेट में सभी विदेशी, 1.5 करोड़ के ब्रैकेट में अकेले भारतीय रॉबिन उथप्पा

Last Updated: शुक्रवार, 13 दिसंबर 2019 (22:22 IST)
नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 2020 के आगामी सत्र में कुल 332 खिलाड़ी नीलामी में भाग्य आजमाएंगे जिसमें 2 करोड़ रुपए के अधिकतम बेस प्राइस में जहां सभी विदेशी खिलाड़ियों को जगह मिली है, वहीं इसके बाद 1.5 करोड़ रुपए के दूसरे ब्रैकेट में रॉबिन उथप्पा अकेले भारतीय हैं।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार को जारी अपने बयान में इसकी जानकारी दी। अगले वर्ष आईपीएल-2020 के लिए नीलामी कोलकाता में 19 दिसंबर को आयोजित की जाएगी। नीलामी के लिए शुरुआत में पंजीकृत खिलाड़ियों की संख्या 971 थी जिसे 8 फ्रेंचाइजियों की अंतिम सूची के बाद घटाकर 332 कर दिया गया है।

कोलकाता में होने वाली नीलामी में कुल 186 भारतीय खिलाड़ी, 143 विदेशी खिलाड़ी और 3 एसोसिएट राष्ट्र के खिलाड़ी शामिल हैं। नीलामी में 73 खिलाड़ियों को खरीदा जाना है जिसमें विदेशियों की संख्या 29 रहेगी।

कैप्ड खिलाड़ियों में 2 करोड़ रुपए के उच्चतम ब्रैकेट में शामिल सभी 7 खिलाड़ी विदेशी हैं जिनमें ग्लेन मैक्सवेल, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड, मिशेल मार्श, डेल स्टेन और एंजेलो मैथ्यूज हैं। भारतीयों में उथप्पा ने अपना आधार मूल्य 1.5 करोड़ रुपए रखा है और वह दूसरे 1.5 करोड़ रुपए के ब्रैकेट के कुल 10 खिलाड़ियों में अकेले भारतीय हैं।

भारतीय खिलाड़ियों में पीयूष चावला, यूसुफ पठान और जयदेव उनादकट का बेस प्राइस 1 करोड़ रुपए है। 1 करोड़ रुपए के ब्रैकेट में कुल 23 खिलाड़ी (3 भारतीय, 20 विदेशी), 75 लाख रुपए के ब्रैकेट में 16 खिलाड़ी (सभी विदेशी) और 50 लाख रुपए के ब्रैकेट में कुल 78 खिलाड़ी (69 विदेशी, 9 भारतीय) शामिल हैं।

अनकैप्ड खिलाड़ियों में 40 लाख रुपए का अधिकतम बेस प्राइस रखा गया है जिसमें कुल 7 खिलाड़ी (6 विदेशी, 1 भारतीय), 30 लाख रुपए के बेस प्राइस में कुल 8 खिलाड़ी (3 विदेशी, 5 भारतीय) और 20 लाख रुपए के बेस प्राइस में कुल 183 खिलाड़ी (16 विदेशी, 167 भारतीय) शामिल हैं।

नीलामी की शुरुआत 7 बल्लेबाजों की नीलामी से होगी जिसमें आरोन फिंच, क्रिस लिन, जैसन रॉय, इयोन मॉर्गन और रोबिन उथप्पा शामिल हैं। अंतिम सूची में 24 नए खिलाड़ियों को जोड़ा गया है जिनके नामों की फ्रैंचाइज़ी टीमों ने सिफारिश की थी।

इन नए नामों में वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज केसरिक विलियम्स, ऑस्ट्रेलिया के डेन क्रिस्टियन और लेग स्पिनर एडम जम्पा, बांग्लादेश के पूर्व कप्तान मुशफिकुर रहीम और सरे के 21 वर्षीय बल्लेबाज विल जैक्स शामिल हैं। विलियम्स ने यूएई में लंकाशायर के खिलाफ सत्र से पूर्व टी-10 मैच में मात्र 25 गेंदों में सैकड़ा ठोका था।

नीलामी में खिलाड़ियों को उनके कौशल के हिसाब से रखा गया है। नीलामी में खिलाड़ियों के बिकने का क्रम बल्लेबाज, आलराउंडर, विकेटकीपर-बल्लेबाज, तेज गेंदबाज और स्पिनर के रूप में रहेगा। नीलामी में पहले कैप्ड खिलाड़ी बिकेंगे और फिर अनकैप्ड खिलाड़ियों का नंबर आएगा।

नीलामी से पहले 8 टीमों ने कुल 35 विदेशी खिलाड़ियों सहित 127 खिलाड़ियों को रिटेन किया था। 8 टीमें खिलाड़ियों को रिटेन करने में 472.35 करोड़ रुपए खर्च कर चुकी है और नीलामी में खरीद के लिए उनके पास 207.65 करोड़ रुपए का पर्स बचा है।

नीलामी में चेन्नई सुपर किंग्स को कुल 5, दिल्ली कैपिटल्स को 11, किंग्स इलेवन पंजाब को 9, कोलकाता नाइट राइडर्स को 11, मुंबई इंडियंस को 7, राजस्थान रॉयल्स को 11, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को 12 और सनराइजर्स हैदराबाद को 7 खिलाड़ी खरीदने होंगे।

चेन्नई ने 70.40 करोड़ रुपए, दिल्ली कैपिटल्स ने 57.15 करोड़ रुपए, किंग्स इलेवन पंजाब ने 42.30 करोड़ रुपए, कोलकाता नाइट राइडर्स ने 49.35 करोड़ रुपए, मुंबई इंडियंस ने 71.95 करोड़ रुपए, राजस्थान रॉयल्स ने 56.10 करोड़ रुपए, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने 57.10 करोड़ रुपए और सनराइजर्स हैदराबाद ने 68 करोड़ रुपए का पर्स खर्च कर लिया है।

नीलामी में चेन्नई के पास 14.60 करोड़ रुपए, दिल्ली कैपिटल्स के पास 27.85 करोड़ रुपए, किंग्स इलेवन पंजाब के पास 42.70 करोड़ रुपए, कोलकाता नाइट राइडर्स के पास 35.65 करोड़ रुपए, मुंबई इंडियंस के पास 13.05 करोड़ रुपए, राजस्थान रॉयल्स के पास 28.90 करोड़ रुपए, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के पास 27.90 करोड़ रुपए और सनराइजर्स हैदराबाद के पास 17 करोड़ रुआईपीएल पये का पर्स उपलब्ध रहेगा।




और भी पढ़ें :