ईडन गार्डन में 'गुलाबी गेंद टेस्ट' को रंगारंग बनाने के लिए जोरदार तैयारियां

पुनः संशोधित सोमवार, 18 नवंबर 2019 (18:12 IST)
कोलकाता। भारतीय क्रिकेट टीम के इतिहास में पहली बार खेले जाने वाले को यादगार बनाने के लिए इसके मेजबान स्थान कोलकाता के मैदान पर तैयारियां जोरदार स्तर पर चल रही हैं, जिसमें राजनीति से लेकर क्रिकेट की कई हस्तियां मौजूद रहेंगी।
भारत और बांग्लादेश के बीच 22 नवंबर से शुरू होने वाला सीरीज का दूसरा मैच से डे-नाइट प्रारूप में खेला जाएगा। यह दोनों देशों के लिए पहला मौका है, जब वे गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच खेलेंगे।

यह भारत का 540वां टेस्ट मैच होगा। इस सीरीज का पहला टेस्ट मैच इंदौर के होलकर स्टेडियम में 3 दिन में ही समाप्त हो गया था, जिसे भारत ने पारी और 130 रन से जीता था।
बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) मिलकर इस मैच की तैयारियों में जुटा है, जिसमें कई पूर्व दिग्गज क्रिकेटरों सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण, राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले के साथ साथ बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के मौजूद रहने की भी उम्मीद है। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी आमंत्रित किया गया है।
के मौजूदा और कैब के पूर्व प्रमुख सौरव गांगुली की पहल के बाद भारत पहली बार डे-नाइट प्रारूप में खेलने को लेकर राजी हुआ है। भारत अपने घरेलू मैदान पर टेस्ट के इस सबसे नए प्रारूप में खेलने जा रहा है, जिसके लिए कई प्रकार के कार्यक्रमों का इस दौरान आयोजन किया गया है।
कैब ने मैच में क्रेक्राफ्ट के साथ मिलकर ईडन गार्डन की दीवारों पर क्रिकेट के यादगार पलों को चित्रों के रूप में उकेरने का भी प्रयास किया है। यहां खिलाड़ियों के पहले मैच से लेकर उनके राष्ट्रीय टीम में खेलने तक के सफर को दिखाया जाएगा। तस्वीर सौजन्य : ट्‍विटर


और भी पढ़ें :