इस बॉर्डर गावस्कर सीरीज की 10 बड़ी बातें

Last Updated: मंगलवार, 19 जनवरी 2021 (17:48 IST)

ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक असंभव सी प्रतीत होने वाली जीत में अर्जित कर ली। 328 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही भारतीय टीम ने 7 विकेट खोकर यह रन बना लिए वह भी आखिरी दिन।

भारत ने न केवल बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी को रीटेन किया बल्कि सीरीज भी 2-1 से अपने नाम कर ली। इस सीरीज में याद रखी जाने वाली यह दस बातें

- भारत ने लगातार ऑस्ट्रेलिया को 3 बार 2-1 के अंतर से हराया। एक बार भारत में तो दो बार ऑस्ट्रेलिया में

- भारत ने लगातार ऑस्ट्रेलिया को उसी की जमीन पर 400 का आंकड़ा पार नहीं करने दिया। साल 2018 की सीरीज में तो ऑस्ट्रेलिया 350 तक नहीं पहुंच पायी थी।
- इस सीरीज में भारत और ऑस्ट्रेलिया के किसी भी सलामी बल्लेबाज ने शतक नहीं लगाया। सर्वाधिक स्कोर शुभमन गिल (91) का चौथे टेस्ट में रहा।

- चार टेस्ट मैचों की इस सीरीज मेंं सिर्फ तीन शतक लगे एक कप्तान अजिंक्य रहाणे ने मेलबर्न में लगाया और एक स्टीव स्मिथ ने सिडनी में और एक मार्नस लाबुशेन ने मेलबर्न में।

- इस सीरीज में तीनोंं जीत टीम को बाद में बल्लेबाजी कर मिली। ऑस्ट्रेलिया पहला टेस्ट 8 विकेट से जीता, भारत मेलबर्न टेस्ट 8 विकेट से और ब्रिस्बेन टेस्ट 3 विकेट से जीता।
- ऑस्ट्रेलिया लगातार दूसरी बार पांचवे दिन भारत के 10 विकेट चटकाने में विफल रहा।

- पिछले 20 सालों में भारत की गाबा पर यह पहली जीत है इससे पहले सौरव गांगुली
के शतक की बदौलत भारत ने 2003-04 में यहां मैच ड्रॉ करवाया था।

-
सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले नंबर 1 और 2 के पायदान पर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी है, यह आशचर्यजनक बात है कि वह इसके बावजूद भी सीरीज हार गए हैं।
- गेंदबाज मिचेल स्टार्क ने अपने करियर का सबसे महंगा ओवर आज किया जिसमें उन्होंने 20 रन दिए।

-
भारत के हाथों अपने ही घर में बॉडर गावस्कर सीरीज गंवाने वाले टिम पेन पहले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान बन गए हैं।



और भी पढ़ें :