अंपायर पर गुस्सा दिखाना शाकिब को पड़ा भारी, लगा 4 मैच का बैन और 5 लाख टका जुर्माना (Video)

Shakib al hasan
Last Updated: शनिवार, 12 जून 2021 (20:37 IST)
स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल-हसन को ढ़ाका लीग के दौरान आपा खोने के लिए सजा सुना दी गई। शाकिब अब अगले चार मैचों में खेलते नजर नहीं आएंगे, क्योंकि उनपर 4 मैचों का बैन लगा दिया गया है। साथ ही उनपर 5 लाख टके का जुर्माना भी लगाया गया है। शाकिब एक बेहतरीन खिलाड़ी हैं, लेकिन शुक्रवार को उनका अलग ही रूप सामने आया, जिसकी निंदा हो रही है।

शुक्रवार को सोशल मीडिया पर ढाका लीग के दो वीडियो वायरल हुए। इसमें देखा जा सकता है कि शाकिब गेंद फेंकते हैं और अंपायर से मुशफिकुर रहीम को आउट देने की अपील करते हैं, लेकिन अंपायर आउट करार नहीं देते, बस फिर शाकिब अपना आपा खो बैठते हैं। वह अंपायर पर चिल्लाते हैं और गुस्से में स्टंप को लात भी मार देते हैं, जो बिलकुल भी स्वीकार्य नहीं होगा।

ये प्रकरण है तो 7 जून का, लेकिन इसका वीडियो 11 जून को सोशल मीडिया पर सामने आया, जिसके बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया और अब शाकिब को उनकी शर्मिंदगी भरी हरकत के लिए ने सजा भी सुना दी गई है।


इस बैन के बाद अब मोहम्मददीन स्पोर्टिंग क्लब के कप्तान को उनके खराब बर्ताव के लिए ढाका प्रीमियर लीग में चार मैचों के लिए बैन कर दिया गया है। वह आठवां, नौंवा, दसवां और ग्यारह मैच नहीं खेले पाएंगे। वीडियो के वायरल होने के बाद शाकिब ने माफी भी मांगी थी।

मोहम्मडन स्पोर्टिंग क्लब क्रिकेट समिति के अध्यक्ष मसूदुज्जमां ने शनिवार को एक बयान में कहा, “ हम बीसीबी (बंगलादेश क्रिकेट बोर्ड) से इस मामले को गंभीरता से लेने की अपील करेंगे ताकि यह पता लग सके कि शाकिब जैसे अनुभवी खिलाड़ी ने ऐसा व्यवहार क्यों किया।
मसूदुज्जमां ने कहा, “ हमें पता चला है कि अंपायर समिति ने चार मैचों के प्रतिबंध की सिफारिश की है। हम बीसीबी से अपील करेंगे और उनसे कहेंगे कि वह मामले की जड़ तक जाए और देखे कि शाकिब ने ऐसा कदम क्यों उठाया। स्वाभाविक रूप से ऐसा व्यवहार स्वीकार्य नहीं है, लेकिन साथ ही हमें यह पता लगाना होगा कि ऐसा क्यों हुआ। ”
इसके लिए उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट के जरिए एक पोस्ट शेयर किया था, जिसमें उन्होंने लिखा था कि, 'प्रिय फैन्स और फॉलोवर। मैं माफी मांगता हूं अपना आपा खोने और इस तरह से सभी के लिए मैच को बर्बाद करने के लिए, खासतौर पर उन लोगों से जो घर पर बैठकर यह मुकबला देख रहे थे। मेरे जैसे एक अनुभवी खिलाड़ी को इस तरह का बर्ताव नहीं करना चाहिए, लेकिन कभी-कभी सब ऑड्स के खिलाफ दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से ऐसा हो जाता है। मैं टीमों से, मैनेजमेंट से, टूर्नामेंट के ऑफिशिल्स से और टूर्नामेंट के आयोजकों से इस भूल के लिए माफी मांगता हूं। उम्मीद है कि भविष्य में मैं इस तरह की बर्ताव फिर कभी नहीं करूंगा। धन्यवाद और सभी को प्यार।'




और भी पढ़ें :