भारत में स्त्री-पुरुषों के वेतन में भारी अंतर : मॉन्स्टर

नई दिल्ली| पुनः संशोधित मंगलवार, 17 मई 2016 (17:00 IST)
नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर स्त्री-पुरुष में अंतर पर बढ़ती बहस के बीच एक नई रपट से संकेत मिलता है कि में यह अंतर 27 प्रतिशत तक है जहां पुरुषों का औसत सकल वेतन 288.68 रुपए प्रति घंटा है जबकि महिलाओं की आय 207.85 रुपए प्रति घंटा तक है।
ऑनलाइन करियर और नियुक्ति समाधान प्रदाता मान्स्टर इंडिया के ताजा मान्स्टर वेतन सूचकांक के मुताबिक सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में औसतन सबसे अधिक 337.3 रपए प्रति घंटा वेतन मिलता है।
 
सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में स्त्री-पुष कर्मचारियों के वेतन में फासला सबसे अधिक 34 प्रतिशत है। सूचना प्रौद्योगिक सेवाओं में पुरुष 360.9 रुपए प्रति घंटा कमाते हैं जबकि महिलाओं की आय 239.6 रुपए प्रति घंटा है।
 
अलग अलग क्षेत्रों के विश्लेषण से स्पष्ट है कि स्त्री-पुरष वेतन में सबसे ज्यादा अंतर विनिर्माण क्षेत्र में (34.9 प्रतिशत) है और सबसे कम बैंक, फाइनेंस और बीमा क्षेत्र में हैं। परिवहन, लॉजिस्टिक्स, संचार में यह फासला समान रूप से 17.7 प्रतिशत है।
 
रपट के मुताबिक वेतन में फर्क की वजहों में एक यह हो सकती है कि महिला कर्मचारियों के मकाबले पुरुषों को ज्यादा तरजीह दी जाती है। इसके अलावा निगरानी वाले पदों के लिए पुरुष कर्मचारियों को प्रोन्नति में तरजीह मिलती है। दूसरी तरफ बच्चों के पालन-पोषण की वजह से महिलाओं द्वारा नौकरी से अवकाश लेना और अन्य सामाजिक एवं सांस्कृतिक कारकों की भूमिका हो सकती है। (भाषा)



और भी पढ़ें :