वजन बढ़ रहा है? हो सकता है आप कम खा रहे हैं फाइबर


ऐसी समस्या है जो एक बार बढ़ना शुरू होता है तो लगातार बढ़ता रहता है। वजन बढ़ जाता है और मुश्किल ये है कि जब भी आप चेक करते हैं पहले से ज्यादा ही है। वजन के बढ़ने से अगर आप परेशान रहते हैं, आपको लगता है आपकी पर्सेनेलिटी बदल चुकी है और आप खुद का पहले वाला रूप याद करके दुखी होते हैं तो कुछ करने का वक्त है। आपको अपनी डाइट बढ़ानी है।

ये क्या कहां तो आप सोच रहे हैं कैसे करें कटौती खाने में और यहां आपको वजन घटाने के लिए डाइट बढ़ाने का कहा जा रहा है। आपको खाने में कटौती नहीं शामिल करने की जरूरत है।

क्या आपकी डाइट में जरूरत के मुताबिक फाइबर है?

फाइबर से ही आपकी पचाने की क्रिया ठीक हो पाती है। आपको आश्चर्य होगा कि हममें से अधिकतर लोग जरूरत के मुताबिक फाइबर नहीं खा रहे। फाइबर पानी के साथ मिलकर खाने को आपके पाचनत्रंत में आगे बढ़ाता है।

फाइबर को समझें और पहचानें

फाइबर की कम मात्रा के अलावा, हमें सही फाइबर की पहचान की भी मुश्किल है। सोल्यूबल या घुलनशील फाइबर नर्म और चिपचिपा होता है। इसे शरीर आसानी से पचा लेता है। इन्सोल्यूएबल या अघुलनशील फाइबर पचाने में ठीक लेकिन आपके पाचनतंत्र में बेहद मजबूती देता है।



कितना फाइबर है जरूरी?

जरूरत से ज्यादा फाइबर जैसी कोई चीज नहीं होती। आप भरपूर फायबर खाएं लेकिन कम से कम में पुरूषों को हर रोज 40 ग्राम और महिलाओं को 25 ग्राम फाइबर लेना ही चाहिए।




कैसे करें फाइबर को अपनी डाइट में शामिल?

फाइबर को अपनी डाइट में शामिल करने के लिए आपको खाने में ओट्स, जोवार, बाजरा, दलिया और दालें खाना चाहिए। मैदा, साबुदाना और चावल खाना कम करना बेहतर होगा।

फलों का ज्यूस बंद कर दें, पूरा फल खाएं

आपको खाने में सब्जी और फलों की मात्रा बढ़ा देनी चाहिए। फलों का ज्यूस न पीएं। उसके बदले पूरा फल खाएं ताकि फाइबर और न्यूट्रिएंट्स आपके शरीर को मिल सकें।




 

और भी पढ़ें :