इस लेख के लिए टिप्पणियाँ बंद हो गयी है..

टिप्पणियां

Deepak srivas

वकील साहब का कहाना बिलकुल अनुचित है उन्हें इस प्रकार का बयान देने से पहले ख़ुद विचार करना चहिये उनका य्ह बयान उनकी शिछा और ओदे पर सवाल उथाता है शायद वो इतिहास में नारी कि भूमिका को भूल रहे है
X REPORT ABUSE Date 13-03-15 (03:37 PM)

D B S SENGAR

आज विश्व 21 सदी में जी रहा हे, आज कोई भी छेत्र महिलाओं कि पहुच से अछूता नही हे, अब तो देश कि महिलाये सेना में अपनी सेवाये दे रही हे..विश्वं कि आधी आबादी जो दुनिया में अपनी कार्य कुशलता कि झंडे गाड़ रही हे वहा उसे घर में कैद रखने कि वकालत करना रुडीवादि मानसिकता ही हे..ऐसी सोच रखने वाले वकील साहब कि सनद तत्काल जप्त कर उन्हें उनके बयान के लिए सार्वजनिक तौर पर जुते मारे जाना चाहिये..जुते भी इतने कि इनकी औलाद गंजी पैदा हो...
X REPORT ABUSE Date 07-03-15 (02:19 PM)